1 जून से महंगी होगी घरेलू हवाई यात्रा, फ्लाइट टिकट के दाम 13 से 16 फीसदी तक बढ़ेंगे

भारत सरकार ने घरेलू फ्लाइट के किराये की निचली सीमा में 13 से 16 प्रतिशत बढ़ोतरी की है। घरेलू उड़ानों के किराये की ऊपरी सीमा में कोई बदलाव नहीं किया गया है।

कोरोना की दूसरी लहर का असर हवाई यात्रा पर भी देखने को मिल रहा है। कोरोना के कारण लोग ज्यादा हवाई यात्रा नहीं कर रहे है । जिसके कारण एयरलाइनस कंपनियों को बहुत नुकसान हो रहा है। ऐसे में सरकार द्वारा हवाई किराये की निचली सीमा में बढ़ोतरी से यकीनन हवाई कंपनियों को कुछ राहत मिलेगी।

नागरिक उड्डयन मंत्रालय ( civil Aviation MInistry ) के ऑफिसियल आदेश में यह कहा गया है कि हवाई यात्रा की निचली सीमा में 13 से 16 प्रतिशत की बढ़ोतरी की गयी है और यह बढ़ोतरी 1 जून 2021 से लागु होगी।

देश में हवाई उड़ान अवधि के समय आधार पर हवाई यात्रा के किराये की निचली और ऊपरी सीमा निश्चित की गयी है। यह सीमा पिछले साल चले दो महीने के लॉकडाउन के 25 मई को खुलने के समय तय की गयी थी।

नागरिक उड्डयन मंत्रालय के शुक्रवार को जारी आदेश में कहा गया है कि 40 मिनट तक की समयावधि की हवाई उड़ान के लिए किराये की निचली सीमा को 2300 रूपए से बढ़ाकर 2600 रूपए-13 % की वृद्धि की गयी है। इसी प्रकार 40 मिनट से लेकर 60 मिनट की समयावधि वाली उडान के लिए किराये की निचली सीमा 2900 रूपए से 3300 रूपए प्रति व्यक्ति होगी।

Comments

Translate »