ED ने मंत्री पार्थ चटर्जी की करीबी अर्पिता मुखर्जी के बेलघरिया टाउन क्लब स्थित आवास से 29 करोड़ रूपये बरामद किए

ED ने बुधवार को पश्चिम बंगाल के मंत्री पार्थ चटर्जी की करीबी अर्पिता मुखर्जी के बेलघरिया टाउन क्लब स्थित आवास पर छापा मारा। जहां से प्रवर्तन निदेशालय ने 29 करोड़ रूपये बरामद किए हैं। इससे पहले ईडी अर्पिता के घर से 20 करोड़ बरामद कर चुकी है।

बुधवार के दिन प्रवर्तन निदेशालय ने शिक्षक भर्ती घोटला मामले में कोलकाता में तीन ठिकानों पर छापेमारी की। जांच एजेंसी ने पार्थ की करीबी अर्पिता के दूसरे ठिकाने से 28.90 करोड़ रुपए बरामद किए हैं। जांच एजेंसी को 5 किलोग्राम गोल्ड भी मिला है। ईडी की टीम को ये पैसा गिनने के लिए 10 घंटे से ज्यादा का समय लगा। इतना ही नहीं पैसा गिनने के लिए तीन टेलेक्स मशीनें मंगाई गई। सबसे बड़ी चौकाने वाली बात ये है कि ये पैसा अर्पिता के फ्लैट के टॉयलेट में छिपा रखा था।

बता दें , हाल ही में प्रवर्तन निदेशालय ने शिक्षक भर्ती घोटाले में पश्चिम बंगाल सरकार के मंत्री पार्थ चटर्जी को 36 घंटे की पूछताछ के बाद अरेस्ट किया था। चटर्जी के बाद 23 जुलाई को उसकी करीबी अर्पिता मुखर्जी को गिरफ्तार किया गया था। इससे पहले ईडी ने अर्पिता के पहले फ्लैट से 20 करोड़ रुपए और अन्य सामान जब्त किया था।

केंद्रीय जांच एजेंसी ED ने बुधवार सुबह दक्षिण कोलकाता बेलघरिया और राजडंगा में कई ठिकानों पर रेड मारी थी। ये संपत्तियां अर्पिता मुखर्जी की बताई जा रही हैं। ईडी की पूछताछ के दौरान मुखर्जी ने इन संपत्तियों का खुलासा किया था।

ईडी ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि अर्पिता मुखर्जी के बेलघरिया स्थित आवास से बहुत ज्यादा कैश और गोल्ड मिला है। कैश गिनने के लिए तीन मशीने मंगवानी पड़ी। फ्लैट से कई अहम दस्तावेज भी बरामद हुए हैं। ईडी ने बताया कि अर्पिता मुखर्जी जांच में सहयोग कर रही है जबकि पार्थ चटर्जी ऐसा नहीं कर रहा है।

Comments

Translate »