बीजेपी छोड़कर टीएमसी में शामिल हुए केंद्रीय पूर्व केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो

0
बीजेपी छोड़कर टीएमसी में शामिल हुए केंद्रीय पूर्व केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो

पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी को करारा झटका लगा है। पूर्व केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो बीजेपी छोड़कर तृणमूल कांग्रेस पार्टी में शामिल हो गए है।  बाबुल सुप्रियो पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 के बाद से ही पार्टी से नाराज चल रहे थे।

पूर्व मंत्री बाबुल सुप्रियो ने भारतीय जनता पार्टी को करारा झटका दिया है। बाबुल सुप्रियो ने शनिवार के दिन बीजेपी छोड़कर टीएमसी का दामन थाम लिया है। उन्होंने टीएमसी पार्टी के महासचिव अभिषेक बनर्जी और पार्टी के सांसद डेरेक ओ ब्रायन की मौजूदगी में टीएमसी का दामन थामा है। बाबुल सुप्रियो को हाल ही में केंद्रीय मंत्रिमंडल में फेरबदल के दौरान उनके पद से हटा दिया गया था। बाबुल सुप्रीयो आसनसोल लोकसभा सीट से सांसद है। उन्होंने टीएमसी का दामन ऐसे समय में थामा है जब पश्चिम बंगाल की भवानीपुर सीट पर उपचुनाव हो रहा है। जहां से स्वयं सीएम ममता बनर्जी उम्मीदवार है।

बाबुल सुप्रियो ने थामा टीएमसी का दामन 

बाबुल सुप्रियो को करीब 2 महीने पहले पर्यावरण मंत्री राज्य मंत्री के पद से इस्तीफा देने के लिए कहा गया था। उस समय उन्होंने कहा था कि वह किसी भी पार्टी में शामिल नहीं होंगे और राजनीति छोड़ देंगे। लेकिन उन्होंने बाद में संसद सदस्य बने रहने के लिए कहा था।

टीएमसी के पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव जीतने के बाद बाबुल सुप्रीयो 5 वे ऐसे नेता हैं जिन्होंने बीजेपी को छोड़कर टीएमसी का दामन थामा है। बाकी अन्य चारों शामिल होने वाले विधायक है। बाबुल सुप्रीयो का तृणमूल कांग्रेस पार्टी में शामिल होना भाजपा के लिए बड़ा झटका है।

2014  में शुरू की थी सियासी पारी 

पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार में कैबिनेट में 43 मंत्रियों को शामिल किया गया था। कई मंत्रियों को हटाया भी गया था। कैबिनेट से हटने वालों में बाबुल सुप्रियो  भी थे और उसके बाद से ही वह पार्टी से नाराज थे। सुप्रियो  ने जुलाई के अंत में फेसबुक पोस्ट लिखी थी। जिसमें उन्होंने साफ तौर पर लिखा था कि मैं किसी भी पार्टी में नहीं जा रहा हूं। मैं एक टीम का खिलाड़ी हूं और हमेशा एक टीम का समर्थन किया है। हालांकि अब बाबुल सुप्रीयो टीएमसी के साथ है।

आपको बता दे संगीत की दुनिया के बाद उन्होंने अपनी सियासी पारी 2014 में बीजेपी के साथ शुरू की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here