मुझ में भी कोरोनावायरस के लक्षण दिखाई दे रहे हैं: ग्रेटा थुंबरग

0
Greta Thunberg realizes symptoms of coronavirus 
ग्रेटा थुंबरग

ऐसा लग रहा है कि मुझे भी कोरोना वायरस हो गया है। इस वायरस को लेकर मेरी कोई जांच नहीं हुई है। लेकिन जो लक्षण दिखाई दे रहे हैं, उनसे तो यही लग रहा है कि मैं संक्रमित हो गई हूं-ग्रेटा थुंबरग ने अपने इंस्टाग्राम पर लिखा।

थुंबरग की आशंका

यात्रा के बाद लिखा

युवाओं की दी सलाह

ग्रेटा थुंबरग ने अपने इंस्टाग्राम एकाउंट पर लिखा, “पिछले दो सप्ताह मैं अंदर ही हूं। जब मैं मध्य यूरोप से अपनी यात्रा से लौटी तो मैंने खुद को अलग कर दिया। क्योंकि शुरू में COVID-19 (उदाहरण के लिए जर्मनी में) के मामलों की संख्या इटली के समान थी। लगभग दस दिन पहले मुझे कुछ लक्षण महसूस होने लगे, ठीक उसी समय जैसे मेरे पिता – जिन्होंने ब्रसेल्स से मेरे साथ यात्रा की थी। मैं थका हुआ महसूस कर रही थी। मुझे कंपकंपी, गले में खराश और खांसी थी। मेरे पिताजी ने समान लक्षणों का अनुभव किया, लेकिन बहुत अधिक तीव्र बुखार के साथ।”

उन्होंने आगे लिखा, ” स्वीडन में आप COVID -19 के लिए खुद का परीक्षण नहीं करवा सकते, जब तक कि आपको आकस्मिक चिकित्सा उपचार की आवश्यकता न हो। बीमार महसूस करने वाले सभी को घर पर रहने और खुद को अलग रहने के लिए कहा जाता है। इसलिए मेरा COVID-19 के लिए परीक्षण नहीं किया गया है, लेकिन इसकी बहुत संभावना है कि मुझे कोरोनावायरस हो सकता है। ”

ग्रेटा ने आगे लिखा, ” मेरी पिछली सर्दी इससे बहुत खराब थी! अगर यह वायरस किसी और को नहीं होता तो एक दम  मुझे कुछ शक भी नहीं होता। तब मुझे लगता था कि मैं खांसी के साथ असामान्य रूप से थका हुआ महसूस कर रही हूं। यह वह है जो इसे इतना अधिक खतरनाक बनाता है। बहुत से (विशेष रूप से युवा लोग) किसी भी लक्षण को बिल्कुल भी नहीं देख सकते हैं, या बहुत हल्के लक्षण हो सकते हैं। तब उन्हें पता नहीं होता है कि उनके पास वायरस है और वे इसे दूसरे लोगों के पास भेज सकते हैं। ये भी पढ़ें : सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर पीएम नरेंद्र मोदी से भी आगे निकले विराट कोहली

थुंबरग ने अपनी पोस्ट में नसीहत देते हुए लिखा, ” कृपया ध्यान रखें कि वायरस के प्रसार को धीमा करने के लिए विशेषज्ञों और अपने स्थानीय अधिकारियों की घर पर रहने की सलाह का पालन करें। याद रखें कि हमेशा एक-दूसरे का ख्याल रखें और ज़रूरतमंद लोगों की मदद करें।” ये भी पढ़ें: जानिए कौन है इस दशक का सर्वश्रेष्ठ कप्तान,एमएस धोनी या विराट कोहली

कौन है ग्रेटा थुंबरग

स्वीडन की पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा साल 2019 में विश्व जलवायु परिवर्तन को लेकर सुर्ख़ियों में आई थी। उन्होंने संयुक्त राष्ट्र संघ के मंच पर विश्व भर के नेताओं को अपने भाषण में फटकार लगाई थी। ‘हाउ डेयर यू” उनके ये शब्द काफी प्रचलित हुए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here