हरियाणा सरकार देगी कोरोना मरीजों को बाबा रामदेव की कोरोनिल किट्स

हरियाणा के ग्रामीण इलाकों में कोरोना वायरस के मामलों में मामलों में काफी वृद्धि हो रही है। जिसके लिए राज्य सरकार ने किसान आंदोलन में हिस्सा लेने वालों को जिम्मेदार ठहराया है। स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने राज्य में कोरोनावायरस मरीजों के लिए कोरोनिल किट देने का ऐलान किया है।

भारतीय जनता पार्टी और जनता जन नायक पार्टी के गठबंधन वाली हरियाणा सरकार ने राज्य में कोरोना मरीजों के लिए योग गुरु बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि की विवादित आयुर्वेदिक दवा कोरोनिल देने का एलान किया है। इस बात की जानकारी राज्य के गृह और स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने सोमवार के दिन एक ट्वीट करते हुए दी है।

स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने अपने ट्वीट में लिखा,” हरियाणा में कोविड-19 मरीजों के बीच एक लाख पतंजलि की कोरोनिल किट मुफ्त बांटी जाएंगी। कोरोनिल किट का आधा खर्च पतंजलि ने और आधा हरियाणा सरकार के कोविड राहतकोष ने वहन किया है ।”

शहरों की अपेक्षा हरियाणा के ग्रामीण इलाकों में कोविड-19 के मामलों में काफी बढ़ोतरी हुई है। जिसके लिए हरियाणा की सरकार ने किसान आंदोलन में हिस्सा लेने वालों को जिम्मेदार ठहराया है। हरियाणा के अधिकारियों का कहना है कि इस तरह की बैठकें सुपर स्प्रेडर्स के काम कर रही हैं।

आपको बता दें, फरवरी महीने में बाबा रामदेव ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन की मौजूदगी में कोरोनिल दवा का एलान किया था । रामदेव ने दावा किया था कि यह कोरोना की पहली दवा है। इसके बाद इस पर काफी विवाद भी हुआ था। इंडियन मेडिकल असोसिएशन ने इसका विरोध किया था । आईएमए ने कहा था कि एक डॉक्टर और स्वास्थ्य मंत्री कैसे देश में एक अवैज्ञानिक उत्पाद को बढ़ावा दे सकते हैं ?

Comments

Translate »