लॉकडाउन के समय में हेमा मालिनी ने मंदिर मस्जिद और चर्च से ग़रीबों की मदद करने की लगाई गुहार

भारत में कोरोनावायरस के कारण अब तक 19 लोगों की मौत हो चुकी है। इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या का आंकड़ा बढ़कर 873 पहुंच गया है। राहत की बात ये है कि इस वायरस से संक्रमित 79 लोग स्वस्थ होकर विभिन्न अस्पतालों से छुट्टी ले चुके हैं।

कोरोनावायरस  के कहर को देखते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने 24 मार्च की शाम 8 बजे देश भर में संपूर्ण लॉकडाउन का ऐलान किया था। जिसके बाद देश भर में ,सड़क हवाई और रेल मार्ग बंद कर दिए गए हैं। 21 दिन के लॉकडाउन की वजह से ग़रीब और दिहाड़ी मज़दूरों को बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। मज़दूरों की रोज़ी-रोटी छिन गई है। जिसके बाद वे विभिन्न राज्यों से अपने घर की तरफ पैदल पलायन कर रहे हैं। ऐसे में उनके सामने भुखमरी की समस्या आ गई है।

मथुरा से बीजेपी सांसद और बॉलीवुड अभिनेत्री हेमा मालिनी ने मज़दूर और ग़रीब वर्ग की मदद के लिए मंदिर मस्जिद और चर्च सहित सभी धार्मिक स्थलों से गुहार लगाई है। हेमा मालिनी ने सभी धार्मिक स्थलों से ग़रीबों को सहारा देने की बात कही है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा ,” मैं इस मौके पर सभी मंदिर मस्जिद और चर्च से निवेदन करती हूं कि वो ग़रीब लोगों की लॉकडाउन के दौरान मदद करें। ये सभी लोग बेरोजगार और बिना घर के हो गए हैं। उनके भले के लिए आप सभी दिल खोलकर दान दें। ”

hema malini twitter account
स्क्रीनशॉट हेमा मालिनी ट्विटर

हेमा मालिनी ने लॉकडाउन के समय में गुरुद्वारों की तारीफ करते हुए ट्वीट किया। उन्होंने लिखा ,” मैं इस बात से बेहद खुश हूं कि देश के सभी गुरुद्वारे जरूरतमंदों और ग़रीबों का पेट भरने का काम कर रहे हैं। ये सभी गुरु नानक देव जी के सच्चे भक्त हैं ,जिनके लिए सेवा सबसे बड़ी प्राथमिकता है। “

Comments

Translate »