लॉकडाउन में दुकानदार ने लिखा-अगर मेरी दुकान का शटर बंद दिखे तो कॉन्टैक्ट करें,हम आत्मा की तरह आस पास ही भटक रहे हैं

भारत के कई राज्यों में कोरोना वायरस महामारी पर अंकुश लगाने के लिए लॉकडाउन लगाया गया है । लेकिन लगे लॉकडाउन कारण आम आदमी से लेकर व्यापारियों तक असर पड़ रहा है । केंद्र और राज्य सरकारों के दिशा-निर्देशों के अनुसार अलग-अलग राज्य में मार्किट खोलने के अलग-अलग समय हैं । ऐसे में ग्राहकों से लेकर दुकानदारों तक पर इसका सीधा असर पड़ रहा है । अब एक दुकानदार ने ऐसा जुगाड़ किया है कि उसकी दुकान का सामान भी बिक जाए और पुलिस को लॉकडाउन के उल्लंघन के आरोप में हर्जाना भी न देना पड़े ।

दरअसल, आईपीएस अधिकारी दीपांशु काबरा ने अपने ट्विटर एकाउंट पर एक फोटो साझा की है ।जिसमें लिखा हुआ है, “अगर मेरी दुकान का शटर बंद दिखे तो कॉन्टैक्ट करें । हम आत्मा की तरह आस पास ही भटक रहे हैं ।” बता दें आमतौर पर लगभग सभी दुकानदार पुलिस के डर से इसी तरह के देसी जुगाड़ अपना रहे हैं । बाजारों में दुकानों के शटर बंद होते हैं लेकिन सामान फिर भी बिक रहा है । कई दुकानदार तो बाहर बैठे रहते हैं और अंदर से उनका दूसरा साथी या नौकर ग्राहकों की मांग पर सामान की आपूर्ति करता रहता है । हालांकि देश के कई राज्यों में लगे लॉकडाउन के कारण चीजों की कीमतों में काफी बढ़ोतरी देखने को मिल रही है । दुकानदार सामान को डेढ़ से दोगुने दाम पर बेच रहे हैं ।

https://twitter.com/ipskabra/status/1398557379503869954

अब आईपीएस अधिकारी दीपांशु काबरा ने दुकानदार के पोस्टर को साझा करते हुए ट्विटर पर लिखा ,” इस भटकती आत्मा की खाकी से जल्द मुलाकात होगी ।” पुलिस अधिकारी दीपांशु काबरा की इस पोस्ट पर लोग जमकर कमेंट कर रहे हैं और तरह-तरह के सुझाव भी दे रहे हैं ।

Comments

Translate »