अब जया प्रदा ने थामा बीजेपी का दामन ,रामपुर से लड़ सकती हैं चुनाव

अभिनेता से नेता बनी जया प्रदा ने साल 2004 में यूपी के मुस्लिम बाहुल क्षेत्र रामपुर से समाजवादी पार्टी के
टिकट पर जीता था लोकसभा चुनाव।

जया प्रदा ने अपना राजनितिक जीवन 1994 में तेलुगु देशम पार्टी से शुरू किया था। टीडीपी में जया प्रदा एक
दशक तक रही। टीडीपी में एन टी रामाराव और दूसरे बड़े नेताओं के बीच दरार आने के बाद जया प्रदा चंद्रबाबू
नायडू के धड़े में चली गई।

साल 2004 में जया प्रदा ठीक लोकसभा चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी में चली गई। जया प्रदा ने समाजवादी
पार्टी की टिकट पर रामपुर लोकसभा से 80 हजार मतों से विजय प्राप्त की। दूसरी बार इसी सीट और पार्टी से
जया प्रदा ने साल 2009 में 30 हजार मतों से जीत दर्ज की।

रामपुर से दो बार सांसद रहने वाली जया प्रदा और पार्टी के बड़े नेता आज़म खान से 2014 में झगड़ा खुलकर
सामने आया। लोकसभा चुनाव 2014 से पहले मार्च में जया प्रदा अपने राजनैतिक दोस्त अमर सिंह के साथ
राष्ट्रीय लोकदल पार्टी में शामिल हो गई। नई पार्टी से उनको बिजनौर का टिकट दिया गया लेकिन हार गई।

आज जया प्रदा ने भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया है। ये उनकी चौथी पार्टी है। कयास लगाए जा
रहे हैं ,जयाप्रदा को मुस्लिम बाहुल क्षेत्र रामपुर से टिकट देकर आज़म खान के खिलाफ चुनाव लड़वाया जायेगा।

Comments

Translate »