कंगना रनौत-मुझे मानसिक, भावनात्मक शारीरिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है, आपकी मदद चाहिए

0
कंगना रनौत-मुझे मानसिक, भावनात्मक शारीरिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है। आपकी मदद चाहिए
फोटोः कंगना रनौत

कंगना रनौत-मुझे मानसिक, भावनात्मक शारीरिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है। आपकी मदद चाहिएकंगना रनौत ने ट्विटर वीडियो शेयर कर कहा कि मुझे मानसिक, भावनात्मक और अब शारीरिक रूप से क्यों प्रताड़ित किया जा रहा है?

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो जारी करते हुए लिखा मुझे मानसिक भावनात्मक और अब शारीरिक रूप से प्रताड़ित क्यों किया जा रहा है? मुझे इस राष्ट्र से जवाब चाहिए। मैं आपके लिए खड़ी थी। आप मेरे लिए खड़े होंगे? जय हिंद।

अभिनेत्री कंगना रनौत ने ट्विटर पर साझा किए गए वीडियो में कहा,” नमस्ते जब से मैंने देश के हित में बात की है। जिस तरह से मुझ पर अत्याचार किए जा रहे हैं। प्लस शोषण किया जा रहा है। वह सारा देश देख रहा है। गैरकानूनी तरीके से मेरा घर तोड़ दिया गया।”

“किसानों के हित में बात करने की लिए मुझ पर हर दिन ना जाने कितने केस डाले जा रहे हैं। यहां तक कि मुझ पर हंसने के लिए लिए भी एक केस हुआ है। मेरी बहन जिन्होंने कोरोना काल के शुरुआत में, रंगोली जी ने डॉक्टरों पर हो रहे अत्याचार के खिलाफ आवाज उठाई थी। उन पर भी केस हुआ। उस केस में मेरा नाम डाल दिया गया। जबकि उस समय मैं ट्विटर पर नहीं थी। ऐसा होता नहीं है। लेकिन ऐसा किया गया।”कंगना रनौत ने कहा।

“जो हमारे माननीय मुख्य न्यायाधीश जी हैं, उन्होंने उस चीज को रिजेक्ट भी किया और उन्होंने कहा कि इस केस का कोई तुक नहीं है। उसके साथ में आर्डर है कि मुझे पुलिस स्टेशन में जाकर हाजिरी लगानी पड़ेगी और मुझे कोई बता नहीं रहा है कि किस तरह की यह हाजिरी है।” – मणिकर्णिका:द क्वीन ऑफ़ झांसी अभिनेत्री ने कहा।

https://twitter.com/KanganaTeam/status/1347433867683131393

“मुझे यह भी कहा गया कि हो रहे अत्याचारों के खिलाफ में ना किसी से बात कर सकती हूं। ना बोल सकती हूं। हॉनरेबल सुप्रीम कोर्ट से पूछना चाहती हूं कि वह समय है जहां पर औरतों को जिंदा जलाया जाता है और मैं औरतों के हित में बात नहीं कर सकती? इस तरह के अत्याचार सारी दुनिया के सामने हो रहे हैं। मैं लोगों से यही कहना चाह रही हैं। जो आज ये तमाशा देख र,हे हैं उनसे यही कहना चाहती हैं जिस तरह के खून के आंसू हजार साल की गुलामी में सही है ।वह फिर से सहने पड़ेंगे, अगर राष्ट्रवादी आवाजों को चुप करा दिया गया। जय हिंद। ‘पंगा’ अभिनेत्री ने कहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here