जानिए कौन है वो मिस्ट्री गर्ल जिसने भगोड़े मेहुल को भारत लाने के लिए बिछाया था जाल,चौकसी की पत्नी ने किया यह खुलासा

पीएनबी घोटाले के आरोपी भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चौकसी को भारत लाने के लिए केंद्र सरकार और ख़ुफ़िया  एजेंसियों की कोशिशें लगातार जारी हैं । लेकिन एंटीगुआ में मेहुल चौकसी कैसे हनी ट्रैप में फंसा और एंटीगुआ से डॉमिनिका पहुंचा, इसके पीछे एक मिस्ट्री गर्ल का बहुत बड़ा रोल रहा है । जिसका खुलासा खुद मेहुल चौकसी की पत्नी प्रीति चौकसी ने किया है ।

टाइम्स ऑफ़ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार,मेहुल चौकसी की पत्नी प्रीति ने कहा कि मेहुल को एंटीगुआ से डोमिनिका ले जाने में एक रहस्य्मयी औरत का हाथ है । बता दें, मेहुल चौकसी को एंटीगुआ की नागरिकता मिली हुई है और उसने डोमिनिका में गैर-क़ानूनी रूप से प्रवेश कर अंतराष्ट्रीय नियमों का उल्लंघन किया है। जिसकी एवज में अब उसका भारत को प्रत्यर्पित किया जाना लगभग तय है ।

इसी कड़ी, में मेहुल चौकसी की पत्नी प्रीति ने दावा किया है कि उनके पति को एंटीगुआ से डोमिनिका ले जाने में मिस्ट्री गर्ल का हाथ है । प्रीति ने कहा कि चौकसी को भारत लाने के लिए जाल बिछाया गया है । याद दिला दें, पिछले दिनों मेहुल चौकसी को डोमिनिका में अवैध प्रवेश करने के  आरोप में गिरफ्तार किया गया था ।

डोमिनिकाई कोर्ट ने मेहुल चौकसी को एंटीगुआ से डोमिनिका में अवैध तौर प्रवेश करने के आरोपों का सामना करने का आदेश दिया है । मेहुल की पत्नी प्रीति ने गुरुवार के दिन एक सनसनीखेज खुलासा किया है । प्रीति ने बताया कि चौकसी को भारत लाने के लिए एक जाल बिछाया गया । अगस्त 2020 में बारबरा नाम की एक लड़की ने हमारे घर के सामने एक आवास किराये पर लिया था । जिसके बाद उसने हमारे जीवन में प्रवेश किया और मेहुल चौकसी को एंटीगुआ से डोमिनिका भगाया ।

चौकसी की पत्नी ने टीओआई को बताया , ” मेहुल चौकसी को डोमिनिका लाने वाली नाव कोबरा टूर्स चलाती है । नाव के चालक दल में दो पंजाबी युवक थे ।  23 मई को चौकसी, बारबरा के साथ कार से डिनर करने के लिए निकला था । मुझे नहीं पता कि उसका असली नाम क्या है ? बारबरा जोसेफ ,बारबरा सी या बारबरा जेसिक ?  वह बीच-बीच में हमारे बगल वाले अपार्टमेंट में रुकी । वह पिछले साल हमसे अगस्त के पहले सप्ताह में मिली थी ।”

प्रीति चौकसी ने आगे बताया कि बारबरा ने मेहुल से उसके घर से डिनर पर ले जाने के लिए कहा था । कुछ मिनट बाद लगभग 10 लोग अंदर आए और उसे ले जाया गया । उन्होंने कहा कि मेहुल ने मुझे बताया कि नाव पर सवार लोगों में दो लोग भारतीय थे । उनके नाम गुरजीत और गुरमीत थे ।

ये भी पढ़ें, एंटीगुआ से लापता हुआ भगोड़ा हीरा कारोबारी मेहुल चौकसी

अब सवाल उठता है कि क्या मेहुल चौकसी को भारत लाने के लिए ख़ुफ़िया एजेंसियों ने कोई जाल बिछाया था ? प्रीति चौकसी द्वारा किए गए खुलासे में इसी तरफ इशारा होता है ।

Comments

Translate »