जानिए कौन है छत्तीसगढ़ नक्सल हमले का मास्टरमाइंड हिड़मा

1
जानिए कौन है छत्तीसगढ़ नक्सल हमले का मास्टरमाइंड हिड़मा
फोटोः हिड़मा

नक्सली हिड़मा पीपुल्स लिबरेशन गुरिल्ला आर्मी बटालियन नंबर वन का प्रमुख है। नक्सल कमांडर हिड़मा को संतोष, इंदुमूल, पोडियम भीमा जैसे कई नामों से जाना जाता है। सरकार ने उस पर 2500000 रूपये का इनाम रखा हुआ है।

छत्तीसगढ़ नक्सली हमला

4 अप्रैल 2021 को छत्तीसगढ़ में नक्सलियों ने सुरक्षाबलों पर घात लगाकर हमला किया इस नक्लसी अटैक में करीब 400 नक्सली शामिल थे। जिनके हमले में कम से कम 22 जवान शहीद हो गए। इन नक्सलियों ने उस इलाके में सुरक्षाबलों को तीन तरफ से घेर कर उन पर कई घंटे तक मशीन गन  और ईआईडी से हमला किया।

बताया जा रहा है कि इस मुठभेड़ में करीब 18 नक्सली भी मारे गए हैं। बीते एक दशक के सबसे बड़े नक्सली हमले का मास्टरमाइंड हिड़मा है। हिड़मा की उम्र 40 साल है। वह सुकमा जिले के पूर्वर्ती गांव का एक आदिवासी है। हिड़मा ने 90 के दशक में विद्रोहियों के साथ हाथ मिलाया था।

हिड़मा नक्सली ग्रुप पीएलजी बटालियन का नंबर वन है। वह अपने भयानक और खास हमलों के लिए जाना जाता है । उसकी बटालियन में ढाई सौ माओवादी लड़ाके हैं। जिनमें करीब 80 महिलाएं भी शामिल है। हिड़मा माओवादी दंडकारण्य स्पेशल जोनल कमेटी का सदस्य है।

पुलिस ने हिड़मा पर 2500000 रुपए का इनाम रखा हुआ है। नक्सल कमांडर हिड़मा को संतोष, इंदुमूल, पोडियम भीमा जैसे कई नामों से जाना जाता है।

छत्तीसगढ़ राज्य का सुकमा जिला हिड़मा का गढ़ बताया जा रहा है। यहां होने वाली सभी नक्सली गतिविधियों को हिड़मा हैंडल करता है। हिड़मा देखने में कद काठी से दुबला पतला है । लेकिन नक्सली संगठन में उसका पद काफी बड़ा है। नक्सली गतिविधियों और संगठन पर अच्छी पकड़ के चलते कम उम्र में ही हिड़मा को माओवादियों का टॉप सेंटर कमेटी सदस्य बना दिया गया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार हिड़मा, झारखंड आंध्र ,प्रदेश सहित कई राज्यों में नक्सली हमलों को अंजाम दे चुका है। ये  नक्सली सुरक्षा बलों पर गुरिल्ला वार के तहत हमले करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here