कुलभूषण जाधव केस: मात्र एक रुपए में भारत की बड़ी जीत जबकि पाकिस्तान करोड़ों खर्च कर हारा

0
कुलभूषण जाधव केस: मात्र एक रुपए में भारत की बड़ी जीत जबकि पाकिस्तान करोड़ों खर्च कर हारा
आर्थिक मंदी झेल रहा पाकिस्तान कुलभूषण जाधव केस में इतनी बड़ी राशि खर्च कर अंतरराष्ट्रीय न्याय अदालत (ICJ) में हार जाने के बाद लोगों की आलोचना का सामना कर रहा है।

आर्थिक मंदी झेल रहा पाकिस्तान कुलभूषण जाधव केस में इतनी बड़ी राशि खर्च कर अंतरराष्ट्रीय न्याय अदालत (ICJ) में हार जाने के बाद लोगों की आलोचना का सामना कर रहा है।

भारत के जानेमाने वकील हरीश साल्वे ने (Harish Salve) कुलभूषण जाधव का केस अंतरराष्ट्रीय न्याय अदालत में लड़ने के लिए महज एक रुपया फीस ली है। वहीं पाकिस्तान ने जाधव को आतंकवादी और भारतीय जासूस साबित करने के लिए बीस करोड़ रुपए से भी अधिक रकम खर्च की है। भारत की तत्कालीन विदेश मंत्री सुषमा स्वराज 15 मई 2017 को एक ट्वीट कर यह जानकारी दी थी कि वकील हरीश साल्वे ने जाधव का केस लड़ने के लिए महज एक रुपया फीस ली है।

दूसरी तरफ, पाकिस्तान की संसद में पिछले साल बजट दस्तावेज पेश किया गया जिसमें कहा गया था कि ‘द हेग’ में अंतरराष्ट्रीय न्याय अदालत में कुलभूषण जाधव का केस लड़ने वाले वकील ‘खावर कुरैशी’ को 20 करोड़ रुपए बतौर फीस दिए गए हैं। कैंब्रिज यूनिवर्सिटी से कानून में स्नातक खावर कुरैशी अंतरराष्ट्रीय न्याय अदालत(ICJ) में केस लड़ने वाले सबसे कम उम्र के वकील भी हैं।

आर्थिक मंदी का सामना कर रहे पाकिस्तान को जाधव केस में इतनी बड़ी राशि ख़र्च करने पर सरकार को भारी आलोचना का सामना करना पड़ रहा है। इतना पैसा खर्च करने के बाद भी पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय न्याय अदालत में मुंह की खानी पडी और केस हार गया।

आपको बता दें ,भारत के वकील हरीश साल्वे की एक दिन की फीस 30 लाख रुपए है। कुलभूषण जाधव केस में उन्होंने मात्र एक रुपया फीस ली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here