World Athletics Championship : नीरज चोपड़ा ने रचा इतिहास ,88.13 मीटर की दुरी पर भाला फेंककर सिल्वर मेडल जीता

World Athletics Championship : नीरज चोपड़ा ने 88.13 मीटर की दुरी पर भाला फेंककर इतिहास रच दिया है। नीरज ने अमेरिका के यूजीन में हुए फाइनल मुकाबले में 88.13 मीटर की दुरी पर भाला फेंककर सिल्वर मेडल पर निशाना साधा।

नीरज चोपड़ा ने रचा इतिहास

साल 2021 में टोक्यो ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतने वाले नीरज चोपड़ा ने एक बार फिरदेश का नाम रोशन कर दिया है। उन्होंने अमेरिका में हुई विश्व एथलेटिक्स चैपियनशिप में सिल्वर मेडल पर निशाना साधा है। इसी के साथ चोपड़ा ने World Athletics Championship में भारत के मेडल का सूखा खत्म कर दिया है। उनसे पहले अंजू बॉबी जॉर्ज ने साल 2003 में देश के लिए लॉन्ग जंप में कांस्य पदक जीता था।

फाइनल में जगह बनाई

इससे पहले क्वालिफाइंग राउंड में नीरज ने 88.39 मीटर दूर भाला फेंककर फाइनल में जगह बनाई थी। दुनिया के नंबर वन जैवलिन थ्रोअर एंडरसन ने 89.91 मीटर की दुरी पर भाला फेंककर फाइनल मेंजगह बनाई थी। ऐसे में नीरज चोपड़ा को 90 मीटर से अधिक की दुरी पर भाला फेंकना था, जो नहीं हो पाया।

चौथे राउंड में सिल्वर पर निशाना

नीरज चोपड़ा का पहला राउंड फाउल रहा। दूसरे राउंड में 82.39 मीटर , तीसरे राउंड में 86.37 की दुरी पर भाला फेंका। उन्होंने चौथे राउंड में 88.13 मीटर की दुरी पर भाला फेंककर सिल्वर मेडल पर निशाना साधा। नीरज का पांचवां और छठा राउंड भी फ़ाउल रहा।

हालांकि फैंस नीरज चोपड़ा से विश्व एथलेटिक्स चैपियनशिप में स्वर्ण पदक की उम्मीद लगा रहे थे।  लेकिन तीन बार फाउल थ्रो और लय बिगडने के कारण नीरज गोल्ड पर निशाना नहीं साध पाए। लेकिन विश्व एथलेटिक्स चैपियनशिप में सिल्वर पदक जीतकर उन्होंने भारत के लिए मेडल के लंबे सूखे को खत्म कर दिया है।

पहली WAC में मेडल जीता

यह पहली बार है जब किसी भारतीय पुरुष खिलाडी ने विश्व एथलेटिक्स चैपियनशिप के फाइनल में प्रवेश किया और सिल्वर मेडल जीता। भारतीय एथलीट रोहित यादव ने भी फाइनल में जगह बनाई थी। वह दसवें स्थान पर रहे।  नीरज से पहले भारतीय महिला एथलीट अंजू बॉबी जॉर्ज ने लॉन्ग जंप में 2003 में ब्रॉन्ज मेडल जीता था।

Comments

Translate »