टोक्यो पैराओलंपिक्स में नोएडा डीएम सुहास एल यतिराज ने फाइनल मैच में सिल्वर मेडल जीतकर रचा इतिहास

0
टोक्यो पैराओलंपिक्स में नोएडा डीएम सुहास एल यतिराज ने फाइनल मैच में सिल्वर मेडल जीतकर रचा इतिहास
फोटोः सुहास एल यतिराज

टोक्यो पैराओलंपिक्स में आईएएस अधिकारी सुहास नोएडा के डीएम सुहास ललिनकेरे यतिराज ने बैडमिंटन स्पर्धा के फाइनल मैच में सिल्वर मेडल जीतकर इतिहास रच दिया है। सुहास यतिराज भारत ही नहीं बल्कि दुनिया के पहले जिला अधिकारी हैं जिन्होंने पैराओलंपिक्स स्पर्धा में हिस्सा लिया और मेडल जीता।

नोएडा के गौतमबुद्ध नगर जिला मजिस्ट्रेट सुहास एल यतिराज ने पैराओलंपिक्स में कांस्य पदक जीतकर इतिहास रच दिया है। वह पहले आईएएस अधिकारी हैं , जिन्होंने ये इतिहास रचा है। इससे पहले आज तक किसी भी आईएएस अधिकारी ने पैराओलंपिक में पदक नहीं जीता है।

SL 4 वर्ग में वर्तमान में विश्व के नंबर 3 खिलाडी यतिराज ने इससे पहले सेमीफइनल सहित तीन मुकाबले खेले। इससे पहले सुहास ने इंडोनेशिया के फ्रेडी सेटिआवान को सेमीफइनल में 21-9,21-15 से महज 31 मिनट में हराया था। साल 2007 आईएएस बैच अधिकारी रविवार के दिन हुए फाइनल मुकाबले में फ्रांस के लुकास मजूर से हार गए। हालाँकि वह गोल्ड तो नहीं जीत पाए लेकिन सिल्वर मेडल जीतकर उन्होंने पुरे देश का नाम रोशन कर दिया है।

एनआईटी कर्नाटका से कंप्यूटर इंजीनियर सुहास यतिराज जब अगस्त महीने में टोक्यो के लिए रवाना हुए थे तब उन्होंने अपने बैडमिंटन अभ्यास के बारे में बताते हुए कहा था कि वह सभी काम निपटाने के बाद 10 बजे बैडमिंटन की प्रैक्टिस करते हैं। उन्होंने उस समय कहा था कि मैं इस तरह पिछले 6 साल से अपनी ड्यूटी और खेल को मैनेज कर रहा हूँ।

सुहास यतिराज की पत्नी ऋतू सुहास ने अपने पति द्वारा टोक्यो पैराओलंपिक्स में इतिहास रचने पर कहा ,” उन्होंने बहुत अच्छा खेला। मुझे उनपर गर्व है। यह उनके पिछले 6 साल के कठिन परिश्रम का फल है। “

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here