अब नए नियम से बढ़ेगा केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशन भोगियों का वेतन, जानिए इस फार्मूले से फायदा होगा या नुकसान

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली ने साल 2016 में केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशन भोगियों के लिए नए फार्मूला लाने की बात कही थी। अब वेतन आयोग केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशन भोगियों के लिए नए नियम बनाने पर विचार कर रहा है।

केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशन धारकों के लिए सातवें वेतन आयोग के बाद अब 8 वें वेतन आयोग के आने की उम्मीद ना के बराबर है। पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार अब कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी के लिए नया फार्मूला लाने की तैयारी में है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, केंद्र सरकार कर्मचारियों और पेंशन धारकों के लिए ऐसा फार्मूला तैयार कर रही है। जिसमें 50 फीसदी से ज्यादा महंगाई भत्ता होने पर वेतन में खुद-ब-खुद बढ़ोतरी हो जाएगी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, सरकार इस तरह का फार्मूला तैयार करने जा रही है। जिससे कर्मचारियों की सैलरी समय-समय पर खुद ब खुद बढ़ती रहेगी। जिसको स्वचालित वेतन संशोधन प्रणाली नाम दिया जा सकता है। अब कर्मचारियों की सैलरी में उनकी परफॉर्मेंस के हिसाब से बढ़ोतरी होगी।

ये भी पढ़ें,7Th Pay Commission : केंद्रीय कर्मचारी 31 मार्च से पहले कर लें ये काम, नहीं होगा बड़ा नुकसान

केंद्र सरकार के इस कदम से फिलहाल कर्मचारी संगठन खुश नजर नहीं आ रहे हैं। उनका कहना है कि मौजूदा महंगाई दर को देखते हुए वेतन वृद्धि के लिए साल 2016 से चली आ रही इस सिफारिशों से उनके लिए गुजारा करना मुश्किल हो जाएगा।

आपको बता दें, पूर्व वित्त मंत्री दिवंगत अरुण जेटली ने संसद में भाषण के दौरान 2016 में जुलाई महीने में कहा था कि अब वेतन आयोग  से हटकर कर्मचारियों के बारे में सोचना चाहिए। जेटली चाहते थे कि मध्यम वर्ग के कर्मचारियों के साथ-साथ निम्न स्तर के कर्मचारियों की सैलरी भी बढ़े।

Comments

Translate »