Zee News के एंकर रोहित रंजन की गिरफ्तारी को लेकर आपस में भिड़ी यूपी और छत्तीसगढ़ पुलिस,नोएडा पुलिस ने किया अरेस्ट

कांग्रेस पार्टी के नेता राहुल गांधी का भ्रामक वीडियो चलाने वाले जी न्यूज़ टीवी के एंकर रोहित रंजन को नोएडा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। शिकायत दर्ज होने के बाद छत्तीसगढ़ के रायपुर की पुलिस मंगलवार के दिन रोहित रंजन को गिरफ्तार करने पहुंची थी। जिसकी जानकारी खुद टीवी एंकर ने एक ट्वीट कर दी थी।

ज़ी टीवी के न्यूज़ एंकर रोहित रंजन को नोएडा पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। एंकर के खिलाफ यह कार्रवाई कांग्रेस नेता राहुल गांधी का एक भ्रामक वीडियो डीएनए में चलाने के बाद की गई है। हालांकि टीवी पर प्रसारित वीडियो के लिए खुद रोहित रंजन और चैनल ने माफ़ी भी मांग ली थी।

गिरफ्तारी को लेकर आपस में भिड़ी पुलिस

रोहीत रंजन के खिलाफ कांग्रेस शासित राज्य छत्तीसगढ़ में राहुल गांधी का भ्रामक वीडियो चलाने के बाद एफआईआर दर्ज की गई थी। रोहित को अरेस्ट करने पहुंची छत्तीसगढ़ और नोएडा पुलिस के बीच जोरदार बहस और धक्कामुक्की होते दिखी। छत्तीसगढ़ पुलिस रोहित रंजन को गिरफ्तार करने की कोशिश कर रही थी , इसी बीच नोएडा पुलिस रोहित को गिरफ्तार कर कहीं और निकल गई। गिरफ्तारी से पहले रोहित रंजन ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ , एसएसपी गाजियाबाद और एडीजीपी लखनऊ को ट्विटर पर टैग करते हुए लिखा ,” बिना लोकल पुलिस को जानकारी दिए छत्तीसगढ़ पुलिस मेरे घर के बाहर मुझे अरेस्ट करने के लिए खड़ी है। क्या  कानूनन सही है। ”

ट्वीट कर खुद दी जानकारी

छत्तीसगढ़ पुलिस की टीम से बचाने के लिए गाजियाबाद पुलिस उन्हें अपने साथ ले गई। रोहित अभी उत्तर प्रदेश पुलिस की हिरासत में है। इससे पहले रोहित रंजन के ट्वीट का जवाब देते हुए गाजियाबाद पुलिस ने लिखा ,” यह प्रकरण स्थानीय पुलिस के संज्ञान में है। थाना इंदिरापुरम पुलिस मौके पर है। नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। ”

यही नहीं रायपुर पुलिस ने भी रोहित रंजन के सवाल का जवाब देते हुए लिखा ,” ऐसा कोई नियम नहीं है कि आरोपी को जानकारी दी जाए। अब आपको जानकारी मिल गई है। पुलिस टीम ने आपको कोर्ट का वारंट दिखाया है। अब आपको इस मामले में सहयोग करना चाहिए। जांच में शामिल होना चाहिए और अदालत में अपना पक्ष रखना चाहिए। ”

क्या है मामला ?

आपको बता दें , टीवी चैनल जी न्यूज़ पर प्रसारित होने वाले डीएनए कार्यक्रम में एक जुलाई को रोहीत रंजन ने राहुल गांधी के केरल में दिय गए एक ब्यान को राजस्थान के उदयपुर में दर्जी कन्हैया की हत्या से जोड़ दिया था। राहुल गांधी ने वायनाड में अपने ऑफिस को तोड़ने वालों को बच्चे बोलकर माफ़ करने की बात कही थी। लेकिन डीएनए कार्यकर्म  उनके ब्यान को उदयपुर में हुए कन्हैयालाल के हत्यारों से जोड़ कर दिखाया गया था। जिसपर कांग्रेस ने सख्त नाराजगी जताते हुए कई थानों में एंकर के खिलाफ शिकायतें दर्ज करवाई थी।

Comments

Translate »