खुलासा: जहर से हुई थी सीबीआई जज बी एच लोया की मौत

खुलासा:जहर की वजह से हुई थी जस्टिस लोया की मौत। 

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पर लगा याचिकाकर्ता सतीश महादेव का बड़ा आरोप,उन्हें मारने की दी जा रही है धमकी।

आपको बता दें, ये केस सोहराबुद्दीन और तुलसी प्रजापति के फर्जी एनकाउंटर से जुड़ा हुआ है।

जज बृजगोपाल हरिकिशन लोया

सीबीआई जज बृजगोपाल हरिकिशन लोया की मौत के मामले में एक बहुत बड़ा और चौंकाने वाला खुलासा सामने आया है। महाराष्ट्र के नागपुर जिले के बड़े वकील सतीश महादेव ने २०९ पेज की याचिका दर्ज की है।

जिसमें उन्होंने खुलासा किया है कि सीबीआई के जस्टिस लोया की मौत हार्ट अटैक से नहीं बल्कि जहर देने की वजह से हुई है। याचिकाकर्ता का आरोप है कि  उन्हें बीजेपी के राष्ट्रिय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा जान से मारने की धमकी दी जा रही है।

याचिकाकर्ता ने कई गंभीर आरोप लगाए हैं। जिनका जिक्र इस प्रकार है। 

जस्टिस लोया  ने महादेवराव के सामने खुलासा किया था कि कुछ प्रभावशाली लोग उन्हें धमकियां दे रहे हैं। जिसमें महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस का नाम भी उजागर किया गया था।

जज लोया  ने बताया था कि  उन्हें सौहराबुद्दीन फर्जी मुठभेड़ में अमित शाह को छोड़ने के लिए एक ड्राफ्ट दिया गया था।

जज लोया  ने फैसले का ड्राफ्ट जज महादेवराव और थोंबरे को भेजा था। जस्टिस लोया  की संदिग्ध मौत १ दिसंबर २०१४ के बाद  अधिवक्ता खांडलकर ने महादेव को बताया था की उनकी जान को खतरा है,क्योंकि उनके पास जज लोया की मौत से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारियां और दस्तावेज हैं।

इसके बाद खांडलकर की रहस्य्मयी मौत २९ अक्टूबर २०१५ को हो गई। उनकी मौत को  ऐसे दिखाया गया कि  उन्होंने अदालत के परिसर में खुद किसी इमारत से कूद क्र जान दे दी।

जज लोया  के दूसरे घनिष्ठ थोंबरे की मौत भी १६ मई  २०१६ को हैदराबाद में नागपुर से बेंगलुरु जाने वाली ट्रेन  में संदिग्ध हालत में हुई। ये भी पढ़ें : शादीशुदा लोग भूलकर भी न करें ये गलतियां

सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि महादेवराव ने आरोप लगाया है कि  उन्हें सूर्यकान्त गजानन लोल्गे ने धमकी दी है कि वह सभी केस सुलझा लें नहीं तो सीएम देवेंद्र फडणवीस का कोई पुलिस अफसर उनके ऊपर फर्जी केस लगा देगा।

Comments

Translate »