Video: महाराष्ट्र के औरंगाबाद का शेख युसूफ घोड़े पर सवार होकर जाता है अपने ऑफिस,बताई ये वजह

कोरोना वायरस के कारण लगे Lockdown में शेख युसूफ ने अपने काम पर जाने के लिए पुराना तरीका अपनाया है। वह हर रोज अपने घोड़े जिगर पर सवार होकर अपने दफ्तर जाता है। शेख ने इसके पीछे कई कारण बताए हैं।

साल 2020 में कोरोना वायरस महामारी की रोकथाम के लिए पीएम मोदी ने देश भर लॉकडाउन लगाने की घोषणा की थे। जिसके बाद सभी सार्वजनिक और निजी वाहनों का सड़कों पर चलना बंद हो गया था। ऐसे में महाराष्ट्र के औरंगाबाद के लैब टेक्नीशियन ने काम पर जाने के लिए पुराना तरीका अपनाया। शेख ने अपने ऑफिस जाने के लिए एक घोड़ा खरीदा। जिसपर सवार होकर शेख युसूफ अपने काम पर जाने लगा। इस बात की जानकारी न्यूज़ एजेंसी एएनआई ने एक ट्वीट कर दी है।

एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, ” शेख युसूफ अब हर रोज अपने घोड़े पर सवार होकर अपने ऑफिस जाता है। शेख युसूफ ने बताया ,” मैं एक कॉलेज में लैब असिस्टेंट के रूप में काम करता हूं। आज भी मैं अपने घोड़े का इस्तेमाल आने जाने के लिए करता हूं। यह व्यक्ति को फिट और स्वस्थ रखता है। इसके अलावा ईंधन की कीमतों में वृद्धि को देखते हुए परिवहन के साधन के रूप में घोडा एक व्यवहार्य विकल्प है। ”

ये भी पढ़ें,लॉकडाउन में दुकानदार ने लिखा-अगर मेरी दुकान का शटर बंद दिखे तो कॉन्टैक्ट करें,हम आत्मा की तरह आस पास ही भटक रहे हैं

शेख युसूफ ने आगे कहा ,” मैंने यह घोडा लॉकडाउन के दौरान खरीदा था। मेरी बाइक काम नहीं कर रही थी। पेट्रोल की कीमतें बढ़ गई थी और सार्वजनिक परिवहन नहीं चल रहे थे। तब मैंने इस घोड़े को आने जाने के लिए 40 हजार रूपये में खरीदा था। घोड़े का नाम जिगर है। “

Comments

Translate »