जोधपुर: दईजर महिला पुलिस थाने में दो जोड़ों की सात साल बाद फिर कराई गई शादी,जानिए क्या है मामला

जोधपुर के दईजर महिला पुलिस थाने में एक साल से अलग रह रहे दो जोड़ों की फिर से शादी करवाई गई है। इस बात की जानकारी एसएचओ रेनू ठाकुर ने दी है।

भारत में घरेलू हिंसा के मामले बढ़ते जा रहे हैं। जिसकी वजह से पति पत्नी या तो एक दूसरे से तलाक ले लेते हैं या फिर अलग-अलग रहने लगते हैं कई बार देखा गया कि घरेलू हिंसा की वजह से पत्नी रूठकर अपने मायके चली जाती है। कई मामलों में तलाक तक की नौबत आ जाती है। मां-बाप की घरेलू हिंसा का सबसे ज्यादा असर उनके बच्चों पर पड़ता है। जिन्हे मां या पिता की वजह मानसिक प्रताड़ना सहनी पड़ती है। कई बार बच्चों के स्कूल तक छूट जाते हैं। जोधपुर में एक ऐसा ही मामला सामने आया है , जहां घरेलू विवाद के चलते दो जोड़े एक दूसरे से अलग रह रहे था।

ये भी पढ़ें ,Vikrant Massey-Sheetal Thakur Wedding: शादी के बंधन में बंधे विक्रांत मैसी और शीतल ठाकुर, शादी की तस्वीरें हुई वायरल 

राजस्थान के जोधपुर से एक हैरत में डालने वाला मामला प्रकाश में आया है। जहां सात साल पहले शादीशुदा जोड़ों की पुलिस स्टेशन में फिर से शादी कराई गई है। इस बारे में जानकारी देते हुए थानाधिकारी रेनू ठाकुर ने न्यूज़ एजेंसी एएनआई को बताया ,” 2015 में इनकी शादी हुई थी। इनके बच्चे भी हैं। दोनों परिवारों के बीच पिछले एक साल से विवाद चल रहा था। हमने दोनों पक्षों को समझाबुझा कर फिर शादी कराकर थाने से विदाई कराई। ” यह मामला जोधपुर के दईजर पुलिस स्टेशन का है। जहां महिला पुलिस ने अपनी दक्षता के जरिए मामले का निपटारा किया।

Comments

Translate »