Videos:बॉलीवुड के वो पांच गाने जिनमें अभिनेत्रियों को एक भोग्य वस्तु के रूप में पेश किया गया

8 मार्च को हर साल विश्व महिला दिवस मनाया जाता है। यह महिलाओं को सम्मान देने ,उन्हें समानता की भावना देने और एक भोग्य वस्तु की बजाए उन्हें एक इंसान के रूप में देखने के लिए मनाया जाता है।

बॉलीवुड जगत ने ऐसी कई महिला प्रधान फ़िल्में बनाई हैं ,जिनसे हमें प्रेरणा मिलती है। वास्तव में कई फिल्मों में महिलाओं को समानता का उदाहरण पेश करते हुए देखा गया है। हालांकि बॉलीवुड की कई फिल्मों के गानों में महिला अभिनेत्रियों एक भोग्य वस्तु के रूप में भी पेश किया गया है।

कई गानों में महिलाओं और उनके अंगों को छायादार तरीके से दर्शाया गया है। लेकिन महिलाओं को अपमानजनक दिखाने वाले ये गाने काफी लोकप्रिय भी रहे। बॉलीवुड के कुछ गाने हैं जहां महिलाओं का अनादर किया गया है ,उनमें हैं, चिट्टियां कलाइयां ,बेबी डॉल ,मुन्नी बदनाम हुई जलेबी बाई और तू चीज बड़ी है मस्त मस्त। जानिए 8 मार्च को ही क्यों मनाया जाता है अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस

महिला सशक्तिकरण,महिलाओं को सम्मान देने और विभिन्न क्षेत्रों में उनके योगदान के लिए हर साल 8 मार्च को अंतराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जाता है। लेकिन नीचे दिये गए ये गाने हमें उस उत्सव के बारे में सोचने पर मजबूर करते हैं।

चिट्टियां क्लाइंया गाने में महिला के कलाईयों को एक वस्तु के रूप में पेश किया गया है। जहां एक महिला अपने प्रेमी को रिझाने के लिए अपनी कलाईयों के बारे में दर्शाती हुई दिखाई दे रही है। देखें वीडियो

रागिनी एमएमएस 2 फिल्म का बेबी डॉल गाना जिसमें एक महिला को सेक्स ऑब्जेक्ट के रूप में चित्रित किया गया है।

सलमान खान और सोनाक्षी सिन्हा की दबंग मूवी का गाना ‘मुन्नी बदनाम हुई डार्लिंग तेरे लिए।’इस गाने में महिला के चरित्र और उसके अंगों को दर्शाया गया है। ये गाना बॉलीवुड अभिनेत्री मलाइका अरोड़ा पर फिल्माया गया है।

डबल धमाल फिल्म के गाने जलेबी बाई में एक महिला को पुरुषों के सामने परोसी जाने वाली एक डिश के रूप में दिखाया गया है।

उदित नारायण और कविता कृष्णामूर्ति द्वारा अक्षय कुमार और सुनील शेट्टी की फिल्म मोहरा के लिए गाया गया गाना ‘तू चीज बड़ी है मस्त मस्त। इस गाने ने सड़क छाप मजनुओं को महिलाओं पर फब्तियां कसने के लिए प्रेरित किया। इस गाने को बॉलीवुड अभिनेत्री रवीना टंडन पर फिल्माया गया था।

Comments

Translate »