टीवी टीआरपी घोटाले में अब तक 12 लोग गिरफ्तार

पिछले महीने टीआरपी घोटाला उस समय सामने आया था जब रेटिंग एजेंसी BARC ने हंसा रिसर्च ग्रुप के जरिए एक शिकायत दर्ज कराई थी । शिकायत में रिपब्लिक टीवी का भी नाम आया था ।

मुंबई पुलिस ने मंगलवार के दिन टीआरपी स्कैम को लेकर अदालत में आरोप पत्र दाखिल किया है । मुंबई पुलिस की अपराध आसूचना इकाई कथित टेलीविज़न रेटिंग पॉइंट स्कैम की जांच कर रही है । CIU ने मजिस्ट्रेट अदालत में आरोप पत्र दाखिल किया है ।क्राइम ब्रांच अब तक रिपब्लिक टीवी के वितरण प्रमुख सहित 12 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है ।

पिछले महीने हंसा रिसर्च ग्रुप द्वारा दर्ज करवाई गई शिकायत में कुछ टीवी चैनलों पर टीआरपी के आंकड़ों में हेरफेर करने का आरोप लगाया था । कितने दर्शक कौनसा टीवी चैंनल कितने समय तक देख रहे हैं,का डाटा दर्ज करने के लिए मापक यंत्र लगाए गए हैं ।मापक यंत्र लगाने की जिम्मेदारी हंसा रिसर्च ग्रुप को दी गई है ।

किसी भी टीवी चैनल की टीआरपी बहुत अहम होती है ।क्योंकि चैनलों होने वाली इनकम इसी पर निर्भर करती है । मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने पिछले महीने प्रेस कॉन्फ्रेंस में दावा किया था कि रिपब्लिक टीवी और दो अन्य मराठी चैनल (फ़क्त मराठी , बॉक्स सिनेमा ) टीआरपी घोटाला में शामिल थे ।

Comments

Translate »