AAP हरियाणा में खट्टर सरकार की तानाशाही बर्दाश्त नहीं करेगी:शर्मा

हरियाणा में आप के बढ़ते जनाधार से घबराई बीजेपी सरकार:योगेश्वर

खट्टर सरकार की तानाशाही नहीं चलने देगी आप : योगेश्वर शर्मा

आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं को जल्द रिहा नहीं किया गया तो होगा बड़ा आंदोलन

पंचकूला:आम आदमी पार्टी ने  हरियाणा में भर में अपने विभिन्न नेताओं,पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं की बीती रात हुई गिरफ्तारी पर कड़ा एतराज जताया।

पार्टी ने इसे एक अहम मुद्दा बनाते हुए खट्टर सरकार पर तीखा हमला किया है। पार्टी का कहना है कि यह हरियाणा की भाजपा सरकार की कैसी तानाशाही है कि खट्टर साहिब को पंजाबियों का मुख्यमंत्री कहने पर कल देर रात 70 युवाओं को गिरफ्तार कर लिया गया?

आज यहां जारी एक ब्यान में आप के अंबाला लोकसभा के अध्यक्ष व जिला पंचकूला के प्रधान योगेश्वर शर्मा ने कहा कि हरियाणा में जिस तरह रात में आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया, उससे भाजपा का असली चेहरा सामने आ गया है।

उन्होंने कहा कि हरियाणा में आम आदमी पार्टी के बढ़ते कदम व बढ़ते ग्राफ से भाजपा सरकार पूरी तरह से बौखला गई है और उसकी बेचैनी सामने आ रही है। जिसके चलते वह तानाशाही रुख अख्तियार किये हुए है।

उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर फैले एक संदेश के आधार पर पूरे हरियाणा में जगह-जगह गिरफ्तारी करना आपातकाल की याद दिलाता है।

योगेश्वर शर्मा ने कहा कि हरियाणा में पहले हुड्डा और चौटाला जाट-जाट  किया करते थे। इस जातिवादी राजनीति से त्रस्त होकर सभी समाज के लोगों ने भाजपा की सरकार बनवाई थी।मगर अब भाजपा वाले भी इसी राह पर चल पड़े हैं और वे भी यही सब करके हरियाणा को बर्बादी की तरफ ले जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि भाजपा की तरफ से नगर निगम के चुनावों में अखबारों में बकायदा विज्ञापन दिया गया था कि 52 साल में मिला हरियाणा को पहला पंजाबी मुख्यमंत्री,अगर आज गलती की तो 60 साल में फिर मौका नहीं मिलेगा।

आप के अंबाला लोकसभा के अध्यक्ष व जिला पंचकूला के प्रधान योगेश्वर शर्मा ने कहा, कि वह खट्टर साहब से यह पूछना चाहते हैं कि अगर आप सिर्फ पंजाबी समाज के मुख्यमंत्री बन गये हैं तो भाजपा को वोट देने वाले ब्राह्मण, बनिया, यादव, गुर्जर, सैनी,दलित समाज के लोग अपनी समस्याओं को लेकर किसके दरवाजे पर जाएं ?

उन्होंने कहा कि खट्टर साहब और भाजपा को अपनी मानसिकता बदलनी चाहिए। हरियाणा के लोग अब जाति-धर्म की राजनीति बर्दाश्त नहीं करेंगे। शर्मा ने ये भी कहा कि आम आदमी पार्टी की राष्ट्रीय परिषद में भी हमारे राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कार्यकर्ताओं की इस तरह गिरफ्तारी पर चिंता व्यक्त की है।

उन्होंने कहा कि हमारी मांग है कि ये अघोषित तानाशाही बंद की जाए। इस पूरे मामले की निष्पक्ष जांच कराई जाए और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

इस पूरे घटनाक्रम की जानकारी देते हुए योगेश्वर शर्मा ने कहा, बीती रात आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं के घरों पर देर रात पुलिस पहुंची। उन्होंने कहा कि 10 – 10 पुलिस वाले एके-47 लेकर रात डेढ़ बजे पहुंचे। हमारे कार्यकर्ताओं को उनके घरों से उठाया गया। हमारे सैकड़ों  कार्यकर्ताओं के फोन नहीं मिल रहे हैं। कुछ कार्यकर्ताओं का जब हमने पता किया तो उनके परजिनों ने बताया कि पुलिस उन्हें गिरफ्तार करके ले गयी है।

उन्होंने इन आप कार्यकर्ताओं एवं नेताओं की तुरंत रिहाई किये जाने की मांग करते हुए कहा है कि सरकार अपना यह एमरजेंसी वाला फैसला वापिस ले अन्यथा आम आदमी पार्टी इसको लेकर संघर्ष करेगी और भाजपा को आम जनता के बीच बीजेपी को बेनकाब करेगी।

Comments

Translate »