खगोलविदों ने ढूंढ लिया पृथ्वी जैसा नया ग्रह सुपर अर्थ

जब से इस सृष्टि की रचना हुई है तब से पृथ्वी के अलावा दूसरे ग्रहों पर जीवन की खोज जारी है। वर्षों से दुनियभर के खगोलविद और वैज्ञानिक दूसरे ग्रहों पर जीवन की तलाश कर रहे हैं।

मानव सदियों से धरती जैसे किसी दूसरे ग्रह तलाश में लगा हुआ है। कई वैज्ञानिकों ने ऐसे कई ग्रह ढूंढ निकाले हैं ,जहां जीवन संभव हो सकता है। हालांकि, इस खोज में अभी तक कोई पूर्ण सफलता हाथ नहीं लगी है।

अब खगोलविदों ने ऐसे ग्रह को खोज निकाला है ,जो पृथ्वी से बिल्कुल मिलता जुलता नजर आता है। इस ग्रह पर जीवन संभव हो सकता है या नहीं ,अभी इसकी कोई पुष्टि नहीं हुई है।

खगोलविदों ने लाखों में से एक ऐसी सुपर अर्थ को ढूंढ लिया है जो न केवल हमारी पृथ्वी से मिलता जुलता है बल्कि असाधारण भी है। खगोल शोधकर्ताओं के अनुसार सुपर अर्थ पर एक साल 617 दिन का होता है। यानी हमारी पृथ्वी से करीब-करीब डबल दिन का।

स्पेस डॉट कॉम  की रिपोर्ट के अनुसार, सुपर अर्थ, पृथ्वी की तरह कई समानताएं रखता है। जिसकी खोज न्यूजीलैंड में कैंटरबरी विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने की है। 

इसमें और पृथ्वी में कुछ अंतर भी हैं। आकार के मामले में वैज्ञानिकों का मानना है कि यह पृथ्वी के द्रव्यमान का लगभग चार गुना है। इसकी कक्षा सूर्य के चारों तरफ पृथ्वी और शुक्र के बीच कहीं होती है।

सुपर अर्थ आकाश गंगा के सेंटर में तारों के गुच्छों का पास स्थित है। आपको बता दें ,हमारी पृथ्वी आकाश गंगा के केंद्र से 25 हजार प्रकाश वर्ष दूर है। इस हिसाब से सुपर अर्थ हमारी पृथ्वी से बहुत ज्यादा दूर है।

Comments

Translate »