बॉलीवुड अभिनेत्री जूही चावला ने 5G नेटवर्क लगाने के खिलाफ दिल्ली हाई कोर्ट में दाखिल की याचिका

एक्ट्रेस जूही चावला और ने देशभर में 5G नेटवर्क स्थापित किए जाने के खिलाफ सोमवार को दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दाखिल की है। उन्होंने अपनी याचिका में दावा किया है कि 5G वायरलेस नेटवर्क से लोगों के अलावा वनस्पतियों पशुओं और अन्य जीवों पर रेडिएशन का कुप्रभाव पड़ रहा है। जस्टिस सी हरिशंकर ने इस याचिका पर सुनवाई से खुद को अलग करते हुए मामले को अन्य पीठ के समक्ष ट्रांसफर कर दिया है। मामले की अगली सुनवाई 2 जून को तय की गई है।

जूही चावला की तरफ से दाखिल की गई याचिका में कहा गया है कि यदि 5G के लिए दूरसंचार उद्योग की योजना सफल होती है तो ऐसी कई व्यक्ति, पशु-पक्षी कीट पेड़ पौधा नहीं होगा जो दिन के 24 घंटे और साल के 365 दिन रेडियो विकिरण के स्तर से बचने में सक्षम होगा। जो कि मौजूदा वितरण से 10 से लेकर 100 गुना तक अधिक है।

याचिका में यह भी कहा गया कि 5G से जिन लोगों पर गंभीर प्रभाव पड़ेगा। वहीं पृथ्वी के सभी परिस्थितिक तंत्र को स्थाई नुकसान भी पहुंचेगा। एक्ट्रेस की तरफ से वकील दीपक खोसला ने याचिका में कहा कि सक्षम प्राधिकार अधिकारियों को इस बात को प्रमाणित करने का निर्देश देने की मांग की है कि 5G नेटवर्क लोगों, बच्चों जानवरों और हर प्रकार के अन्य जीव जंतु वासियों के लिए सुरक्षित है।

Comments

Translate »