केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशन भोगियों को जल्द मिलेगी खुशखबरी, दो लाख तक का होगा फायदा

केंद्र सरकार के कर्मचारियों और पेंशन धारकों के लिए अच्छी खबर है। केंद्र सरकार केंद्रीय कर्मचारियों को जल्द ही खुशखबरी देने वाली है।  कर्मचारियों के खाते में दो लाख रूपये आने उम्मीद जताई जा रही है।

केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशन धारकों के लिए तीन खुशखबरी मिलने वाली है। उम्मीद जताई जा रही है कि केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते को बढ़ाया जाएगा। महंगाई भत्ते को साल में दो बार जनवरी और जुलाई में संशोधित किया जाता है। इसलिए अगले महीने संशोधित किया जाना तय है।

एरियर और प्रोविडेंट फंड

सूत्रों के अनुसार कर्मचारियों के डीए के अलावा 18 महीने का महंगाई भत्ता एरियर और प्रोविडेंट फंड पर ब्याज भी मिल सकता है। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो जनवरी 2020 से 2021 तक 18 महीने के महंगाई भत्ता बकाया भुगतान के मुद्दे को जल्द ही निपटाया जा सकता है।  केंद्र सरकार के कर्मचारियों और पेंशन धारकों को एक बार में 200000 रूपये तक का एरियर मिल सकता है। महंगाई भत्ता कर्मचारियों को के पे बैंड स्ट्रक्चर द्वारा तय किया जाता है।

केंद्र सरकार पहले ही कर्मचारी भविष्य निधि फंड पर ब्याज दर तय कर चुकी है। कर्मचारी भविष्य निधि फंड संगठन और पीएफ खाताधारकों के खाते में ब्याज जमा करेगा। वित्त वर्ष 2021-22 के लिए सरकार ने ईपीएफ पर 8 से 10 फ़ीसदी तक की ब्याज दर को मंजूरी दी है।

DA

ऑल इंडिया कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स में बदलाव के आधार पर DA को संशोधित किया जाता है। मई महीने में खुदरा मुद्रास्फीति 7.04 फीसदी रही। जो रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के 2 से 6% के कंफर्ट लेवल से ऊपर है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार जुलाई में महंगाई भत्ते में 4 फ़ीसदी और बढ़ोतरी होने की संभावना है। जिससे कि डीए 38 फ़ीसदी तक हो जाएगा।

सातवां वेतन आयोग

बता दें कि मार्च में ही केंद्रीय मंत्रिमंडल ने सातवें वेतन आयोग के तहत महंगाई भत्ते में 3% की बढ़ोतरी को मंजूरी दी है। इस प्रकार महंगाई भत्ते को 34 फ़ीसदी कर दिया है। इस कदम से 50 लाख से अधिक केंद्रीय कर्मचारियों और 65 लाख से अधिक पेंशन धारकों को लाभ मिल रहा है। आपको बता दें कि सरकारी कर्मचारियों को महंगाई भत्ता दिया जाता है जबकि पेंशन भोगियों को महंगाई राहत दी जाती है।

Comments

Translate »