एमपी प्रज्ञा ठाकुर के विवादित बोल, कहा- हेमंत करकरे मेरे लिए देशभक्त नहीं हो सकते

0
एमपी प्रज्ञा ठाकुर के विवादित बोल, कहा- हेमंत करकरे मेरे लिए देशभक्त नहीं हो सकते
फोटोः प्रज्ञा ठाकुर

मध्यप्रदेश के भोपाल सीट से कांग्रेस पार्टी के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह को हराकर साल 2019 में लोकसभा सांसद बनी प्रज्ञा ठाकुर में एक बार फिर विवादित बयान दिया है। उन्होंने मुंबई हमले में शहीद हुए पुलिस अधिकारी हेमंत करकरे को लेकर विवादित बयान दिया है।

विवादित बयानों के लिए मशहूर है प्रज्ञा ठाकुर

एमपी के भोपाल से बीजेपी की एमपी प्रज्ञा ठाकुर विवादित बयानों के लिए काफी मशहूर हो चुकी है। उनके विवादित बयान बाजी से कई बार बीजेपी को असहज स्थिति महसूस हुई है। साध्वी प्रज्ञा ठाकुर में एक बार फिर मुंबई आतंकी हमले में शहीद हुए पुलिस अधिकारी हेमंत करकरे को लेकर विवादित बयान दिया है।

हेमंत करकरे को लेकर पहले भी दे चुकी है विवादित बयान

प्रज्ञा ठाकुर ने कुछ साल पहले कहा था कि उनके श्राप के कारण ही महाराष्ट्र कैडर के आईपीएस अधिकारी हेमंत करकरे की मौत हुई है। इस बयान के कारण उन्हें और उनकी पार्टी को लोगों की तीखी आलोचना का शिकार होना पड़ा था। विपक्ष ने भी प्रज्ञा ठाकुर के इस बयान पर सवाल उठाए थे। लेकिन अभी भी प्रज्ञा ठाकुर के व्यवहार में कोई बदलाव देखने को नजर नहीं आ रहा है। उन्होंने फिर से कहा है कि हेमंत करकरे को देशभक्त नहीं मानती हैं।

मालेगांव बम विस्फोट मामले में आरोपी प्रज्ञा ठाकुर ने कहा,” हेमंत करकरे कुछ लोगों के लिए देशभक्त हो सकते हैं। लेकिन असली देशभक्त अलग सोचते हैं। करकरे ने मेरे बारे में जानकारी हासिल करने के लिए मेरे आचार्य शिक्षक की अंगुलियों और पसलियों को तोडा, उल्टा मुझे झूठे केस में फसाया।”

आपको बता दें, इससे पहले भी साल 2019 लोकसभा के चुनाव में कांग्रेस पार्टी के दिग्गज और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को हराने वाली प्रज्ञा ठाकुर ने यह कहा था कि भारत में आपातकाल पहली बार 1975 में लागू किया गया था।  2008 के मालेगांव केस में जब मुझे गिरफ्तार किया गया तब भी ऐसी स्थिति थी।

बता दें कि महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को भी प्रज्ञा ठाकुर देशभक्त बता चुकी है । उनके इस बयान पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीखी आलोचना करते हुए कहा था कि वे उसे कभी मन से माफ नहीं करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here