शहीद की वर्दी पहनकर श्रद्धांजलि देंगी गौरी महादिक

शहीद मेजर प्रसाद महादिक की पत्नी पहनेगी उनकी वर्दी

भारतीय सेना में शामिल होने वाली हैं गौरी महादिक। शहीद मेजर प्रसाद को देंगी उनके स्टार और वर्दी पहनकर श्रद्धांजिल। शहीद मेजर चाहते थे हमेशा खुश रहे।

गौरी महादिक कहती हैं ,”मैं उनकी वर्दी और सितारों को पहनकर श्रद्धांजलि दूंगी। 31 वर्षीय शहीद मेजर 7 बिहार रेजिमेंट में थे अफसर। चैन्नई में अफसर ट्रेनिंग अकादमी में की थी ट्रेनिंग।

शहीद मेजर प्रसाद महादिक 30 दिसंबर 2017 को हुए थे शहीद। भारत-चीन सीमा के पास अरुणाचल प्रदेश के तवांग में शेल्टर में आग लगने के कारण शहीद हुए मेजर महादिक की पत्नी ने कहा “वो मुझे हमेशा खुश और मुस्कुराते हुए देखना चाहते थे। यही कारण है , मैं अपने पति के पेशे यानि भारतीय सेना में भर्ती होने जा रही हूँ।”

‘उनके निधन के दस दिन बाद ही मैंने सोच लिया था कि मुझे क्या करना चाहिए। मैंने फैसला कऱ लिया था कि मुझे उसके लिए कुछ करना है। मैं भारतीय सेना में शामिल हो जाउंगी। मैं उनकी वर्दी और उनके सितारों को पहनूंगी। अगले साल में भारतीय सेना में शामिल हो जाउंगी। यही उनके लिए मेरी तरफ से सच्ची श्रद्धांजलि होगी। “गौरी महादिक ने कहा।

गौरी महादिक ,चैन्नई में अफसर ट्रेनिंग अकादमी में कठोर प्रशिक्षण प्राप्त कर रही है। इसी अकादमी में प्रसाद महादिक ने भी ट्रेनिंग ली थी। प्रसाद 7 बिहार रेजिमेंट में अफसर थे। गौरी महादिक ने ये फैसला उस समय लिया जब पुलवामा में सीआरपीएफ के 44 जवान शहीद हो गए थे।

Comments

Translate »