भारत ने ओडिशा के बालासोर तट पर किया Agni Prime मिसाइल का सफल परीक्षण,2 हजार किलोमीटर है मारक क्षमता

ओडिशा के बालासोर तट पर डॉ एपीजे अब्दुल कलाम द्वीप से नई पीढ़ी की परमाणु सक्षम बैलेस्टिक मिसाइल अग्नि प्राइम का सफल परीक्षण किया गया है। Agni Prime मिसाइल को DRDO द्वारा विकसित किया गया है।

भारत ने शनिवार के दिन ओडिशा के बालासोर तट पर अग्नि प्राइम मिसाइल का सफल परीक्षण किया है। इस मिसाइल को  रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन द्वारा डिजाइन और विकसित किया गया है। अग्नि सीरीज की मिसाइलों का यह आधुनिक संस्करण है। जो परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम है। सतह से सतह पर मार करने वाली अग्नि पी मिसाइल की मारक क्षमता 2000 किलोमीटर तक है।

डीआरडीओ के अधिकारीयों ने सफल परीक्षण के बाद बताया कि टेस्ट के दौरान मिसाइल में कई नए फीचर्स जोड़े गए हैं। मिसाइल उच्च स्तर की सटीकता के साथ सभी टारगेट को भेदने में सक्षम है। मिसाइल अत्याधुनिक तकनीक से लेस होने के कारण कम वजन वाली है।

ये भी पढ़ें,DRDO ने किया ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण

भारत ने इसी सप्ताह ओडिशा के तट से दूर डॉ एपीजे अब्दुल कलाम द्वीप से SMAT का सफलता पूर्ण प्रक्षेपण किया था। डीआरडीओ ने बताया कि प्रणाली को पनडुब्बी रोधी युद्ध क्षमताओं को बढ़ाने के लिए विकसित किया गया है। यह पारंपरिक तारपीडो की रेंज से कहीं अधिक है।

ये भी पढ़ें,DRDO ने स्वदेशी कार्बाइन गन का सफलतापूर्वक परीक्षण किया

DRDO ने कहा कि यह टेस्ट योजना के अनुसार रहा। इस दौरान इलेक्ट्रो ऑप्टिक टेलीमेट्री सिस्टम ,डाउन रेंज शिप सहित तरह तरह के रेंज राडार द्वारा इस पुरे परीक्षण की निगरानी की गई। मिसाइल में पैराशूट डिलीवरी सिस्टम और रिलीज मैकेनिज्म था।

Comments

Translate »