फिलिस्तीन में भारतीय दूत मुकुल आर्य दूतावास में मृत पाए गए

मुकुल आर्य 2008 बैच के भारतीय विदेश सेवा के अधिकारी ( IFS Officer ) थे। वह रविवार के दिन फिलिस्तीनी स्थित भारतीय दूतावास के कार्यालय में मृत पाए गए। आर्य काबुल और मास्को के भारतीय दूतावास में भी सेवाएं दे चुके थे। मुकुल आर्य पेरिस में यूनेस्को के लिए भारत के स्थाई प्रतिनिधि मंडल में भी सेवाएं दे चुके थे।

भारत के विदेशमंत्री ने दी यह जानकारी

फिलिस्तीन शहर के रामल्लाह ( RAMALLAH ) में भारत के प्रतिनिधि मुकुल आर्य का रविवार के दिन निधन हो गया। इस बात की जानकारी विदेश मंत्री एस जयशंकर ने दी है। विदेश मंत्री जयशंकर ने ट्वीट कर कहा कि रामल्लाह में भारत के प्रतिनिधि मुकुल आर्य की मौत की खबर सुनकर बहुत दुख हुआ है। एस जयशंकर ने कहा मुकुल आर्य प्रतिभावान अधिकारी थे। उनके परिवार और परिजनों के प्रति मेरी सभी संवेदनाएं। ओम शांति।

जांच के आदेश दिए गए

मुकुल आर्य के निधन के कारणों के बारे में फिलहाल कोई जानकारी नहीं मिल पाई है। साल 2008 के बैच के भारतीय विदेश सेवा के अधिकारी मुकुल आर्य काबुल और मास्को में स्थित भारतीय दूतावास में सेवाएं दे चुके थे। वह पेरिस में यूनेस्को के लिए भारत के स्थाई प्रतिनिधि मंडल में भी सेवाएं दे चुके थे। मुकुल ने नई दिल्ली में विदेश मंत्रालय के मुख्यालय में भी कार्य किया था। फिलिस्तीन प्रशासन के शीर्ष अधिकारियों ने मुकुल आर्य के निधन पर शोक व्यक्त किया है।

होगी जांच

फिलिस्तीन की तरफ से एक बयान में कहा गया है कि जैसे ही मुकुल आर्य के निधन की जानकारी मिली वैसे ही राष्ट्रपति महमूद अब्बास और पीएम मोहम्मद सतायेह ने सुरक्षाकर्मियों, पुलिस अधिकारियों और सार्वजनिक प्रशासनिक एजेंसियों को जरूरी दिशा-निर्देश दिए हैं। इस मामले में स्वास्थ्य एवं फॉरेंसिक सेवाओं के विशेषज्ञों की भी सेवाएं ली गई है। उन्हें भारतीय राजदूत की मौत के मामलों की जांच पड़ताल करने के लिए आदेश दिए गए हैं।

पार्थिव शरीर को भारत भेजा जाएगा

फिलिस्तीन प्रशासन ने कहा कि वह भारत के विदेश मंत्रालय के संपर्क में है। ताकि मुकुल आर्य के पार्थिव शरीर को भारत भेजा जा सके। फिलिस्तीन के विदेश मंत्री रियाद अल मलिकी ने भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर से फोन पर बातचीत की और आर्य के परिवार से भी संपर्क किया। मुकुल ने दिल्ली यूनिवर्सिटी और जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी से अर्थशास्त्र की पढ़ाई की थी।

Comments

Translate »