आमिर खान और किरण राव के तलाक पर कंगना रनौत का रिएक्शन, इंटर रिलिजन शादी में बच्चे का धर्म हमेशा मुस्लिम क्यों

0
आमिर खान और किरण राव के तलाक पर कंगना रनौत का रिएक्शन, इंटर रिलिजन शादी में बच्चे का धर्म हमेशा मुस्लिम क्यों?
फोटोः कंगना रनौत

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत की आमिर खान और किरण राव के तलाक पर प्रतिक्रिया सामने आई है। जिसमे उन्होने अंतर्धार्मिक विवाह और बच्चों का धर्म हमेशा मुस्लीम होने पर सवाल किया है।

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत अपनी बेबाक टिप्पणियों के लिए जानी जाती हैं। वे हर एक मुद्दे पर खुल कर अपने विचार प्रकट करती हैं। गौरतलब है कि तीन दिन पहले आमिर खान और किरण राव के तलाक की खबर सामने आई थी। इस मुद्दे पर कंगना ने भी अपने विचार प्रकट किये हैं।

कंगना ने इंस्टाग्राम स्टोरी के जरिये अपनी बात रखी। उन्होंने लिखा, “एक समय था जब पंजाब में एक बेटे को हिन्दू और एक बेटे को सिख के रूप में पाला जाता था। ऐसा कभी भी हिन्दू और मुस्लिम व मुस्लिम और सिख और किसी का भी मुस्लिमो के साथ देखने को नहीं मिला।

अंतरधार्मिक शादी में बच्चे का धर्म हमेशा मुस्लिम क्यों होता हैं

कंगना आगे लिखती हैं, “आमिर खान सर के दूसरे तलाक पर मुझे हैरानी होती है कि इंटरफेथ मैरिज ( अंतरधार्मिक विवाह ) में बच्चे का धर्म हमेशा मुस्लिम ही क्यों होता है? महिला हिन्दू बनकर क्यों नहीं रह सकती, बदलते समय के साथ हमे इसे भी बदलने के जरूरत है। ये तरीका प्राचीन और पीछे ले जाने वाला है।”

ये भी पढ़ें ,कंगना रनौत को पंगा और मणिकर्णिका फिल्म के लिए मिले नेशनल अवार्ड

मुस्लिम से शादी के लिए एक को अपना धर्म बदलने की जरूरत क्यों?

अपनी पोस्ट के आखिर में कंगना लिखती है, ” अगर एक परिवार में हिन्दू, बौद्ध, जैन, सिख,राधा स्वामी और नास्तिक साथ रह सकते हैं तो मुस्लिम क्यों नहीं ? मुस्लिम से शादी के लिए एक को अपना धर्म बदलने की जरूरत क्यों पड़ती है?

ये भी पढ़ें ,कंगना रनौत का पासपोर्ट रिन्यू करने से किया इंकार, तो बॉम्बे हाई कोर्ट पहुंची अभिनेत्री, जानिए क्या है पूरा मामला

गौरतलब है कि आमिर खान का ये दूसरा तलाक है। आमिर और किरण का एक बेटा है जिसका नाम आजाद है। आमिर का पहला तलाक रीना दत्ता से 2002 में हुआ था और रीना और आमिर  के दो बच्चे आइरा खान और जुनैद खान हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here