किसानों को रोकने के लिए पुलिस ने सिंघु, टिकरी ,गाजीपुर बॉर्डर पर LOC जैसी किलेबंदी की

0

किसानों को रोकने के लिए पुलिस ने सिंघु, टिकरी ,गाजीपुर बॉर्डर पर LOC जैसी किलेबंदी कीकेंद्र सरकार द्वारा पारित किए गए तीन कृषि कानूनों के खिलाफ देशभर के किसान पिछले 65 दिनों से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। आंदोलन को देखते हुए पुलिस ने दिल्ली की सीमाओं को किले में तब्दील कर दिया है।

किसान आंदोलन को देखते हुए सरकार ने पुलिस बल की संख्या बढ़ाने के साथ-साथ बैरिकेड की संख्या भी बढ़ा है। दिल्ली की अलग-अलग सीमाओं पर पुलिस ने किसानों को रोकने के लिए युद्धस्तर पर तैयारी कर ली है।

दिल्ली के सिंघु बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर और गाजीपुर बॉर्डर पर पुलिस ने कंटीली तार बैरिकेड लगाकर किलेबंदी की है। इतना ही नहीं किसानों के धरना स्थल से दिल्ली की तरफ जाने वाले सभी रास्तों को पुलिस ने बंद कर दिया है। गाजीपुर बॉर्डर के फ्लाईओवर के ऊपर और नीचे दोनों रास्तों को किले में बदल दिया गया है।

दिल्ली की सीमा पर देश के एलओसी जैसी तैयारियां देखकर सवाल उठता है आखिर दिल्ली पुलिस इतनी बड़ी तैयारी क्यों कर रही है? इसका जवाब किसी के पास नहीं है। हालांकि, किसान नेताओं का कहना है कि यह सब प्रशासन का डर है।

बता दें, 29 जनवरी को हरियाणा के 17 जिलों में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई थी। इसके अलावा दिल्ली के सिंघु बॉर्डर गाजीपुर और टिकरी बॉर्डर पर भी इंटरनेट सेवा बंद है। हालांकि हरियाणा में 3 दिन बाद इंटरनेट सेवा को फिर से बहाल कर दिया गया है।

इसी बीच देशभर किसान यूनियनों ने 6 फरवरी को देशव्यापी चक्का जाम करने की घोषणा की है ।बता दें,दिल्ली पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव ने सोमवार के दिन गाजीपुर बॉर्डर का दौरा करके वहां की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया था। गाजीपुर बॉर्डर नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के आंदोलनों का नया केंद्र बिंदु बन गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here