विराट कोहली ने इस कारण लिया टी20 की कप्तानी छोड़ने का फैसला

0
विराट कोहली ने इस कारण लिया टी20 की कप्तानी छोड़ने का फैसला
फोटोः विराट कोहली

विराट कोहली की कप्तानी छोड़ने की चर्चा पिछले 1 साल से चल रही थी। अब विराट कोहली ने T20 की कप्तानी छोड़ने की घोषणा की है। इससे पहले बीसीसीआई इन बयानों का खंडन करता आया था और अब बीसीसीआई ने विराट की टी20 की कप्तानी छोड़ने की पुष्टि कर दी है।

पिछले लगभग पिछले 1 साल से यह चर्चा चल रही थी कि विराट कोहली तीनों फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ सकते हैं। लेकिन गुरुवार शाम को विराट कोहली ने एक ट्वीट कर टी20 की कप्तानी छोड़ने की घोषणा की है। उन्होंने यूएई में खेले जाने वाले टी20 वर्ल्ड कप के बाद इस फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ने की घोषणा की है।  हालांकि चर्चा यह भी थी कि विराट कोहली वनडे की भी कप्तानी छोड़ेंगे। लेकिन विराट कोहली ने फिलहाल टी 20 की कप्तानी छोड़ने का फैसला लिया है। विराट कोहली सिर्फ वनडे और टेस्ट मैच में ही कप्तानी करते हुए नजर आएंगे।

किंग कोहली ने ट्विटर पर साझा किए गए एक पत्र में टी20 की कप्तानी छोड़ने का कारण अपने वर्क लोड का होना बताया है। जिसमें उन्होंने कहा है कि वह क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में पिछले 5-6 साल से कप्तानी कर रहे हैं और वनडे और टेस्ट में पूरी तरह से कप्तानी करने के लिए खुद को स्पेस देना चाहते हैं।

विराट कोहली की टी 20 की कप्तानी छोड़ने के पीछे कई कारण रहे हैं। जिसकी वजह से विराट कोहली को t20 की कप्तानी छोड़नी पड़ी। आइए जानते हैं उनकी टी20 की कप्तानी छोड़ने के पीछे की असली वजह क्या है।

ये हैं कोहली की कप्तानी छोड़ने के कारण 

विराट कोहली पिछले कई साल से भारतीय टीम की कप्तानी कर रहे हैं। विराट की कप्तानी में भारत ने कई बेहतरीन सीरीज जीती है। लेकिन भारत को अपनी कप्तानी में वाइट बॉल के संस्करण में कोई भी आईसीसी खिताब नहीं जीता सके। इस बात को लेकर लगातार उन पर दबाव बन रहा था और सवाल उठ रहे थे। यह बात विराट के फैसले की वजह रही है। फिलहाल विराट कोहली के पास कुछ दिन बाद शुरू होने जा रहे वर्ल्ड कप को जीतकर अपना आईसीसी खिताब जीतने का अच्छा मौका है।

विराट कोहली की पिछले 2 साल से बल्लेबाजी वैसी नहीं रही जैसी उन्होंने शुरू की थी। विराट कोहली साल 2019 के बाद टेस्ट मैच में कोई शतक नहीं लगा पाए। सभी का यही अंदाजा है कि ज्यादा वर्क लोड बढ़ने के कारण विराट कोहली की बल्लेबाजी पर असर पड़ने लगा है और उन्होंने आखिरकार अपने पत्र में इस बात को स्वीकार किया है।

रोहित शर्मा को कप्तानी का मौका 

रोहित शर्मा भी बतौर कप्तान टी20 के फॉर्मेट में अच्छा प्रदर्शन करते आ रहे हैं। हालांकि कुछ सालों से रोहित शर्मा का बल्ला नहीं चल पाया लेकिन बतौर कप्तान उन्होंने टीम को काफी मजबूती दी है। शर्मा ने अपनी कप्तानी के दौरान मुंबई इंडियंस को लगातार दो खिताब दिलाने के साथ ही कुल 5 किताब दिलाए। यह ऐसा रिकॉर्ड रहा जिसमें विराट कोहली पर बहुत ही ज्यादा दबाव बना दिया। रोहित शर्मा 34 साल के हो चुके हैं और ऐसे में सिलेक्टरों के एक धड़े के बीच यह बात चल रही थी कि इस दिग्गज को भी शानदार रिकॉर्ड होने के नाते कप्तानी का मौका मिलना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here