शादी के सात साल बाद महिला ने एक साथ पांच बच्चों को दिया जन्म,खुशियां मातम में बदली

राजस्थान के पिपरानी गांव की रहने वाली 25 वर्षीय एक महिला ने शादी के सात साल बाद पांच बच्चों को एकसाथ जन्म दिया। लेकिन लंबे इंतजार के बाद घर में आई खुशियां मातम में बदल गई। महिला ने महिला ने 3 लड़कियों और 2 लड़कों को जन्म दिया था। जिनकी मौत हो गई है।

प्री-मैच्योर डिलवरी हुई

राजस्थान के करौली जिला के मासलपुर क्षेत्र के पिपरानी गांव की रहने वाली एक महिला ने शादी के सात साल बाद सोमवार सुबह को पांच बच्चों को जन्म दिया था। 25 वर्षीय रेशमा साल साल बाद मां बनी थी। महिला की प्री-मैच्योर डिलवरी हुई। रेशमा की सात महीने में डिलवरी हुई। हालांकि, प्री-मैच्योर डिलवरी के बाद रेशमा स्वस्थ थी लेकिन पांचों बच्चे कमजोर थे। जिनका वजन 300 से 660 ग्राम के बीच था।

2 लड़के और 3 लड़कियों को जन्म दिया

प्री-मैच्योर डिलवरी होने के कारण कमजोर बच्चों में से दो लड़के और दो लड़कियों को जयपुर के लिए रेफर किया गया था। जिनकी रास्ते में ही मौत हो गई। जबकि एक लड़की की मौत जयपुर अस्पताल में पहुँचने के बाद हुई।

महिला का पति अश्क अली केरल में नौकरी करता है। सात साल बाद रेशमा मां बनी थी लेकिन अब उसके पांचों बच्चों की मौत हो गई है। इस तरह सात साल बाद घर में आई खुशियां कुछ ही पलों में मातम में बदल गई।

शादी के 7 साल बाद बनी थी मां

वहीँ, डॉक्टरों का मानना है कि इस तरह का केस लाखों लोगों में से किसी एक में पाया जाता है। डॉक्टरों ने बताया कि पांचों बच्चों का जन्म एक-डेढ़ मिनट के अंतराल पर हुआ था। नवजातों का वजन कम था और प्री-मैच्योर डिलवरी थी ,इसी वजह से उन्हें अच्छे इलाज के लिए जयपुर रेफर किया गया था।

इससे पहले शादी के सात साल बीतने के बाद भी मां नहीं बन पाने के कारण महिला ने कई डॉक्टरों से इलाज करवाया था। जिसके बाद वह गर्भ धारण कर पाई थी। लेकिन इलाज और लंबे इंतजार के बाद भी घर में आई खुशियां मातम में बदल गई। फ़िल्हाल महिला स्वस्थ बताई जा रही है।

Comments

Translate »