बैडमिंटन एशिया ने पीवी से मांगी माफ़ी, मानी अपनी गलती, जानिए क्या है मामला

एशिया बैडमिंटन चैंपियनशिप के महिला एकल सेमीफाइनल मैच में पीवी सिंधु को रैफरी की गलती के कारण हार का सामना करना पड़ा था। रैफरी के गलत फैसले के कारण पीवी सिंधु रो पड़ी थी। अब बैडमिंटन एशिया ने अपनी गलती को स्वीकार करते हुए सिंधु से माफ़ी मांगते हुए अपनी गलती को स्वीकार कर लिया है और भविष्य में ऐसी कोई गलती न दोहराई जाए, इस बात का भी वादा किया है।

BAC तकनीकी समिति के अध्यक्ष चिह शेन चेन ने दो बार ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट पीवी सिंधु से अप्रैल में बैडमिंटन एशिया चैंपियनशिप के महिला एकल के सेमीफाइनल मैच के दौरान मैच के रैफरी की मानवीय गलती के लिए माफ़ी मांगी है। जापान की शटलर अकाने यामागुची के खिलाफ सेमीफाइनल मैच के बीच में रैफरी के गलत फैसले के बाद पीवी सिंधु की आंखों में आंसू आ गए थे। रैफरी के गलत फैसले के बाद सिंधु की लय गड़बड़ा गई और उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। भारतीय शटलर को कांस्य पदक के साथ संतोष करना पड़ा था।

पत्र लिखकर माफ़ी मांगी

बैडमिंटन एशिया के अध्यक्ष ने पीवी सिंधु को लिखे पत्र में कहा कि दुर्भाग्य से उस समय लिए गए फैसले में सुधार नहीं किया जा सकता है। हालांकि, हमने इस गलती की पुनरावृति से बचने के लिए ठोस कदम उठाए हैं।

जापानी खिलाडी को दिया था अतिरिक्त अंक

अधिकारी ने सिंधु को भेजे गए पत्र में लिखा ,” आपको हुई असुविधा के लिए हम ईमानदारी से माफ़ी मांगते हैं। हमारा मानना है कि यह खेल का एक हिस्सा है और इसे इसी रूप में लेना चाहिए। ”

बता दें ,अप्रैल महीने में यह घटना तब हुई थी जब पीवी सिंधु पहला मुकाबला जीतने के बाद दूसरे मैच में 14-11 से आगे चल रही थी। इसके बाद रैफरी ने अधिक समय का ब्रेक लेने के आरोप में सिंधु को सजा सुनाते हुए विरोधी खिलाडी को एक अतिरिक्त अंक दे दिया था। इसके बाद सिंधु की लय गड़बड़ा गई और अगले तीनों राउंड में 21-13 19-21  और 16-21 से हार गई थीं।

तैयार नहीं थी विरोधी खिलाडी

पीवी सिंधु ने उस समय कहा था कि रैफरी ने मुझसे कहा था कि आप अधिक समय ले रही हैं जबकि विरोधी खिलाडी उस समय तैयार नहीं थी। अंपायर ने उसे एक अंक दे दिया जोकि अनुचित था। मुझे लगता है उस मैच में मेरी हार का कारण भी यही था। पीवी सिंधु ने फैसले का विरोध करते हुए एशिया बैडमिंटन परिसंघ को पत्र लिखा था। जिसके जवाब में BAC ने अपनी गलती मानते हुए सिंधु से माफ़ी मांगी।

Comments

Translate »