कैश ट्रांसफर करने से पहले जान लें आरबीआई का नया नियम

भारतीय रिजर्व बैंक ने आम लोगों की सुविधा के लिए आरटीजीएस का समय दो घंटे और बढ़ा दिया है।

भारतीय रिजर्व बैंक में आम आदमी की सुविधा को ध्यान में रखते हुए कैश ट्रांसफर का समय डेढ़ घंटे और बढ़ाकर शाम 6 बजे तक कर दिया है। आम आदमी के लिए यह सुविधा एक जून से प्रभावी होगी। अभी तक कैश ट्रांसफर की सुविधा शाम साढ़े चार बजे तक ही है। आरटीजीएस में पैसे तुरंत ट्रांसफर होते हैं।

आरटीजीएस का उपयोग बड़ी रकम को ट्रांसफर करने के लिए होता है। आरटीजीएस के तहत कम से कम दो लाख रुपए भेजे जा सकते हैं। अधिकतम की कोई सीमा नहीं है। आरबीआई ने अधिसूचना में कहा कि आरटीजीएस में ग्राहकों के लेनदेन के समय को साढ़े चार बजे से बढ़ाकर 6 बजे तक कर दिया गया है।

आरटीजीएस के अलावा एक खाते से दूसरे खाते में पैसे भेजने का दूसरा सबसे लोकप्रिय तरीका एनइएफटी यानि नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर भी है। इसमें पैसे भेजने और मंगवाने के लिए कोई अधिकतम और न्यूनतम सीमा नहीं है।

Comments

Translate »