दिल्ली पुलिस ने जंतर मंतर पर भड़काऊ भाषण मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ दर्ज की एफआईआर

0
41
दिल्ली पुलिस ने जंतर मंतर पर भड़काऊ भाषण मामले में एफआईआर दर्ज की

दिल्ली के जंतर मंतर में भारत जोड़ो मूवमेंट के नाम पर एकत्र हुए कुछ लोगों ने एक समुदाय विशेष के खिलाफ भड़काऊ भाषण दिया था। जिसके खिलाफ दिल्ली पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है। पुलिस के अनुसार वीडियो के आधार पर आरोपियों की पहचान की जा रही है ।

जंतर मंतर पर भड़काऊ नारे लगे

दिल्ली पुलिस के अनुसार सेव इंडिया फाउंडेशन ने रविवार 8 अगस्त को 1947 में हुए भारत को छोड़ो आंदोलन की तर्ज पर भारत जोड़ो आंदोलन की शुरुआत की। जंतर मंतर पर इस कार्यक्रम में सेव इंडिया फाउंडेशन के अध्यक्ष प्रीत सिंह और महासचिव अरविंद त्यागी के अलावा सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील अश्विनी उपाध्याय, नीरज नक्षत्र चौहान, जनसंख्या समाधान फाउंडेशन के प्रमुख अनिल चौधरी, हिंदू रक्षा दल के भूपेंद्र चौधरी, आर्य निर्मात्री सभा के सुनील आर्य, देवसेना के बृजभूषण सैनी, मां कामधेनु फाउंडेशन के दीपक तोमर, हिंदू सेना के विष्णु गुप्ता और देशभर के सैकड़ों लोगों ने इस प्रदर्शन में हिस्सा लिया।

कार्यक्रम को अश्विनी उपाध्याय ने आयोजित किया था

पुलिस के अनुसार इस कार्यक्रम को अश्विनी उपाध्याय ने आयोजित किया था। इस मामले में एफआईआर दर्ज कर जांच की जा रही है। दूसरी तरफ अश्विनी उपाध्याय ने कहा है कि उनका कार्यक्रम यूनाइटेड इंडिया को लेकर था। जिन लोगों ने धर्म विरोधी नारे लगाए हैं, उनसे उनका या उनके संगठन का कोई लेना देना नहीं है। वह खुद पुलिस में उन लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज करने जा रहे हैं।

दिल्ली पुलिस अज्ञात लोगों के खिलाफ दर्ज की एफआईआर 

भड़काऊ भाषण मामले में नई दिल्ली पुलिस डीसीपी दीपक यादव ने समाचार एजेंसी एएनआई से कहा ,” कल “औपनिवेशिक कानून और एक समान कानून” के लिए एक मार्च के दौरान जंतर मंतर पर भड़काऊ नारे लगाते हुए एक वीडियो सामने आने के बाद अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। ”

डीसीपी दीपक यादव ने आगे कहा ,” वहां जमा हुए लोगों के पास अनुमति नहीं थी। हमारे संज्ञान में आया है कि कुछ लोगों ने भड़काऊ और आपत्तिजनक नारे लगाए। हमें एक वीडियो भी मिला है। हमने प्राथमिकी दर्ज कर ली है और हम आगे की जांच कर रहे हैं। आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।”

लेकिन सोशल मीडिया पर शेयर किए गए वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि जिस समय कुछ लोग धर्म विशेष के खिलाफ नारे लगा रहे थे उस समय अश्विनी उपाध्याय भी वहां मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here