मधुमेह के रोगियों को ज्यादा होता है पीठ दर्द :शोध

पीठ दर्द का कारण मधुमेह

एक ताज़ा अध्ययन के अनुसार,मधुमेह से पीड़ित लोगों में स्वस्थ लोगों की तुलना में ज्यादा पीठ दर्द होता है।

सिडनी विश्वविधालय के शोधकर्ताओं ने पाया कि मधुमेह से पीड़ित लोगों में कमर के निचे वाले हिस्से में दर्द का अनुभव होने का खतरा 35 प्रतिशत तक और गर्दन में 24 तक बढ़ जाता है।

अधिकांश वयस्क अपने जीवन के दौरान पीठ के निचले हिस्से में दर्द जा अनुभव करते हैं। किसी अवस्था में गर्दन के दर्द का का भी अनुभव करते हैं। आज के जमाने में मधुमेह एक तेजी से बढ़ती हुई बीमारी है। एक अनुमान के अनुसार लगभग 382 मिलियन लोग मधुमेह की चपेट में हैं।

वरिष्ठ अध्ययन लेखक मैनुएला फरेरा ने बताया ,”पीठ के निचले हिस्से और गर्दन का दर्द किसी न किसी तरह से मधुमेह से जुड़ा हुआ है। “

एक विश्लेषण में पाया गया टाइप 2 मधुमेह के कारण पीठ और गर्दन का दर्द बढ़ने की ज्यादा संभावना है। वजन में नियंत्रण और और शारीरिक गतिविधियों को ज्यादा बढ़ाना मधुमेह पर नियंत्रण रखने में ज्यादा कारगर साबित होता है।

मधुमेह से पीड़ित लोगों में हार्ट अटैक का खतरा आम लोगो की तुलना में 50 फ़ीसदी तक ज्यादा बढ़ जाता है। शरीर में हार्मोन में बदलाव ग्लूकोज़ बढ़ने के कारण होता है। इसके कारण कोशिकाएं और खून की नलिकाएं अधिक प्रभावित होती हैं। इसी कारण धमनी में रुकावट या हार्ट अटैक बढ़ने की संभावना ज्यादा बढ़ जाती है। मधुमेह का लंबे समय तक इलाज नहीं होने पर आँखों के रेटिना पर भी प्रभाव डालता है। जिसके कारण आदमी अँधा भी हो सकता है।

Comments

Translate »