पीएम केयर्स फंड एक बहुत बड़े घोटाले की तरफ इशारा कर रहा है:राष्ट्रीय कांग्रेस

देश में कोरोना वायरस महामारी की दस्तक के बाद इस चुनौती से निपटने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी अगुवाई में 28 मार्च 2020 को पीएम केयर्स फंड बनाया गया। जिसको राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी ने एक घोटाला बताया है।

प्रधानमंत्री नागरिक सहायता और आपातकालीन स्थिति में राहत, यानी पीएम केयर्स फंड से पहले भी पीएमएनआरएफ यानि प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष का 1948 गठन हो चूका है। दोनों में एक समानता है कि इस कोष का इस्तेमाल राष्ट्रीय आपदा में किया जाता है। ये दोनों राहत फंड एक जैसे ही हैं।

PM CARES FUND को कांग्रेस पार्टी ने एक ट्वीट के जरिए एक बहुत बड़ा घोटाला बताया है। आईएनसी ने ट्विटर पर लिखा ,” प्रधानमंत्री राहतकोष की जगह पीएम केयर्स फंड का गठन करना परधानमंत्री की मंशा पर प्रश्नचिन्ह खड़े कर रहा है। पीएम केयर्स फंड को कैग के दायरे से बाहर रखा जाना एक बहुत बड़े घोटाले की तरफ इशारा कर रहा है। ” ये भी पढ़ें : कोरोना: LIC ने पीएम केयर्स फंड में दान किए 105 करोड़

कांग्रेस पार्टी के आधिकारिक ट्विटर एकाउंट किए गए  ट्वीट के साथ एक चित्र भी शेयर किया गया है। जिसमें लिखा है ,पीएम केयर्स घोटाला ,एकत्रित फंड ,लेखा परीक्षण ,फंड का विवरण ,इस्तेमाल अज्ञात। पीएम ने भारतीयों की आंखों में धूल झोंकी।”

Comments

Translate »