प्रशांत भूषण ने RSS से लद्दाख में चीन सीमा पर अपनी वीरता दिखाने के लिए कहा,मिला ये जवाब

कोविड 19 महामारी के दौर में कोरोना वायरस का जन्मदाता चीन भारत के सीमावर्ती इलाकों में भी अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। जिसको लेकर मशहूर प्रशांत भूषण ने आरएसएस प्रमुख श्री मोहन भागवत के एक पुराने ब्यान को लेकर निशाना साधा।

मोहन भागवत का ब्यान

12 फरवरी 2018 को द हिंदू में छपी खबर के अनुसार, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख श्री मोहन भागवत ने कहा ,” एक सेना को तैयार करने में 6 से 7 महीने लगते हैं। लेकिन हम दो-तीन दिनों में युद्ध के लिए तैयार हो जाएंगे। यह हमारी क्षमता और अनुशासन की वजह से संभव है। ”

इसके साथ ही उन्होने यह बात स्पष्ट करते हुए कहा था ,” हमारा कोई मिलिट्री या पैरा-मिलिट्री संगठन नहीं है लेकिन हमारा अनुशासन उनके जैसा है। “ये बात उन्होंने मुजफ्फरपुर में कही थी।

राहु गांधी की प्रतिक्रिया

हालांकि , श्री मोहन भागवत के इस ब्यान के बाद कांग्रेस पार्टी के (उस समय ) राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री राहुल गांधी ने इसे भारतीय सेना का अपमान बताते हुए अपनी प्रतिक्रिया दी थी।

राहुल ने ट्विटर पर लिखा था, ” आरएसएस प्रमुख का बयान हर भारतीय का अपमान है। क्योंकि यह उन लोगों ( सेना ) का अपमान कर रहे हैं ,जो हमारे देश के लिए अपनी जान दे चुके हैं। हमारी सेना का अनादर  करने के लिए श्री भागवत को शर्म आनी चाहिए। ”

भारत चीन सीमा पर तनाव

हाल ही के दिनों में भारत और चीन के बीच सीमा पर तनाव देखा जा रहा है। दोनों देशों ने लद्दाख और उत्तरी सिक्किम में अपनी सेनाओं की उपस्थिति बढ़ा दी है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार चीन एलएसी के आसपास अपनी सेना की नफरी बढ़ा रहा है।

चीन की सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ के अनुसार चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग अपने सेनाओं को युद्ध के लिए तैयार रहने का आदेश दे चुके हैं।

प्रशांत भूषण का ट्वीट

वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने एक ट्वीट करते हुए आरएसएस से लद्दाख क्षेत्र में चीन सीमा पर अपनी वीरता दिखाने की बात कही है। उन्होंने लिखा ,” आरएसएस चीफ भागवत ने कहा ,एक सेना को तैयार करने में छह से सात महीने लगते हैं। लेकिन हम ( आरएसएस कैडर ) दो तीन दिनों में युद्ध के लिए तैयार हो जाएंगे। यह हमारी क्षमता और अनुशासन है। ‘ क्या आरएसएस अब लद्दाख में चीन सीमा पर अपनी वीरता दिखाएगा। ‘

प्रोफेसर राकेश सिन्हा का जवाब

प्रोफेसर राकेश सिन्हा का ट्वीट

वकील प्रशांत भूषण के ट्वीट का जवाब देते हुए प्रोफेसर राकेश सिन्हा ने लिखा ,” आरएसएस संगठन पिछले दो महीने से देश के आम लोगों के लिए काम कर रहा है। वह आपको वैचारिक मोतियाबिंद के कारण नहीं दिख रहा है पर ‘संघ विरोधी बिरादरी’ के अनेक धुरंदर अब संघ का धुन गा रहे हैं। 62 की तरह ही मातृभूमि ,जिसे आप भारत माता नहीं मानते हैं ,की रक्षा में सीमा पर हम पहुंचेंगे। आप क्या कर रहे हैं ?

Comments

Translate »