राजस्थान में MLA खरीदने के लिए कितना PM Cares Fund भेजा गया:राणा अय्यूब

0
Rana Ayyub tweeted that How much of the PM Cares Fund was diverted to Rajasthan to buy MLAs
राजस्थान में MLA खरीदने के लिए कितना PM Cares Fund भेजा गया:राणा अय्यूब

साल 2002 में हुए गुजरात दंगों का स्टिंग ऑपरेशन करने वाली खोजी पत्रकार राणा अय्यूब ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। पत्रकार ने पीएम केयर्स फंड पर सवाल उठाए हैं।

राणा अय्यूब ने एक ट्वीट कर पूछा है कि राजस्थान में कांग्रेस विधायक खरीदने के लिए ‘पीएम केयर्स फंड का कितना हिस्सा भेजा गया है ?

कौन है राणा अय्यूब ?

राणा अय्यूब एक खोजी पत्रिका तहलका की संपादक रह चुकी हैं। इसी पत्रिका के लिए काम करते हुए उन्होंने तत्कालीन गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी का दायां हाथ माने जाने वाले और वर्तमान में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह का स्टिंग कर जेल की सलाखों के पीछे भिजवाया था। मामला साल 2002 के गुजरात दंगों का था।

अय्यूब के स्टिंग ऑपरेशन की पूरी जानकारी उनकी किताब “गुजरात फाइल्स: एनाटॉमी ऑफ़ ए कवर अप ” में हैं। वह आजकल अमेरिकी समाचार पत्रिका द वाशिंगटन पोस्ट डॉट कॉम’ के लिए लिखती हैं। इसके अलावा समाज सेवा के कार्यों में भी बढ़चढ़कर हिस्सा लेती रहती हैं।

उन्होंने कोरोना वायरस काल लागू लॉकडाउन में मुंबई के धारावी में जरूरतमंदों और मरीजों की खूब सेवा की है। फ़िलहाल यही काम देश के बाकी राज्यों जैसे ,बिहार ,झारखंड और पश्चिम बंगाल में कर रही हैं। राणा अय्यूब जरूरतमंदों को राशन और दवाइयां उपलब्ध करा रही हैं। 

क्या है मामला ?

पिछले कई दिनों से राजस्थान में सियासी घमासान मचा हुआ है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और कांग्रेस नेता सचिन पायलट दो गुटों में बंटे हुए हैं। कुर्सी और सत्ता की चाहत का ये मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया है। ये भी पढ़ें :बॉम्बे हाई कोर्ट ने PM CARES Fund में जमा राशि को सार्वजनिक करने वाली याचिका पर केंद्र सरकार से जवाब मांगा

रणदीप सिंह सुरजेवाला ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा

कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए भारतीय जनता पार्टी और पीएम मोदी पर राजस्थान में कांग्रेस सरकार गिराने की कोशिश का आरोप लगाया है।

सुरजेवाला ने प्रेस वार्ता में कहा ,” भारतीय जनता पार्टी ने कोरोना वायरस महामारी के दौरान मध्य प्रदेश में सरेआम प्रजातंत्र का चीरहरण कर डाला। जब पूरा देश कोरोना महामारी से जूझ रहा है तो मोदी सरकार,मानेसर से कर्नाटक तक कांग्रेस विधायकों को उठाकर राजस्थान सरकार गिराने की साजिश कर रही है। मणिपुर ,उत्तराखंड ,अरुणाचल प्रदेश ,कर्नाटक, गोवा ,महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश के बाद अब राजस्थान में सत्ता को लूटने का खुला खेल खेला जा रहा है।

उन्होंने आगे कहा ,” देश में कोरोना वायरस के मामले दस लाख पार हो चुके हैं। चीन ने भारत की सीमा पर जबरन कब्जा कर रखा है। लेकिन मोदी सरकार देश सेवा की बजाय सत्ता की हवस मिटा रही है। ”

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा ,” पिछले महीने से राजस्थान में विधायकों की खरीद फरोख्त की कोशिश चल रही है। विधायकों को खरीद कर चुनी हुई सरकार को गिराने की कोशिश की गई। ” ये भी पढ़ें : PM CARES Fund को RTI के दायरे में लाने के लिए दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दायर

राणा अय्यूब के ट्वीट का मतलब

राणा अय्यूब ने अपने ट्वीट में मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए पूछा कि राजस्थान में कांग्रेस की सरकार को गिराने और विधायकों को खरीदने के लिए पीएम केयर्स फंड का कितना इस्तेमाल हुआ है ? ये भी पढ़ें: पीएम केयर्स फंड एक बहुत बड़े घोटाले की तरफ इशारा कर रहा है:राष्ट्रीय कांग्रेस

पीएम केयर्स फंड का ब्यौरा सार्वजनिक नहीं

आपको बता दें , कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में 27 मार्च 2020 को पीएम केयर्स फंड का गठन किया गया था। इसमें सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि पीएम केयर्स फंड न तो आरटीआई के दायरे में आता है और न ही इसमें कितना पैसा आया और खर्च हुआ, का हिसाब-किताब सार्वजनिक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here