जम्मू कश्मीर: अनंतनाग जिले में सुरक्षा बलों ने लश्कर-ए-तैयबा के कमांडर सहित तीन आतंकवादियों को किया ढेर

घाटी के अनंतनाग जिले में सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा के जिला कमांडर सहित तीन आतंकवादी को मार गिराया है। यह जानकारी जम्मू कश्मीर पुलिस के एक अधिकारी ने दी है।

जम्मू कश्मीर में भारतीय सेना सीआरपीएफ स्थानीय पुलिस और अन्य सुरक्षा बलों द्वारा चलाए गए आतंकियों के सफाई अभियान में और तेजी आ गई है। केंद्र शासित प्रदेश के अनंतनाग जिले में शनिवार शाम को सुरक्षाबलों ने आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के तीन आतंकवादियों को एक एनकाउंटर में मार गिराया है। इनमें से एक लश्कर-ए-तैयबा का कमांडर था।

जम्मू कश्मीर पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि सुरक्षाबलों ने आतंकियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले के रानीपुरा इलाके में घेराबंदी कर तलाशी अभियान शुरू किया। सुरक्षा बलों ने तलाशी अभियान के दौरान आतंकवादियों की मौजूदगी पक्की होने पर उन्हें आत्मसमर्पण के लिए ललकारा। मगर सर्च ऑपरेशन के दौरान आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग कर दी। सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई की और मुठभेड़ शुरू हो गई। एनकाउंटर में आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के तीन आतंकवादी मारे गए हैं। तीनों की डेड बॉडी बरामद कर ली गई है।

अनंतनाग एनकाउंटर में मारे गए तीनों आतंकवादियों की पहचान कर ली गई है। जिनके नाम सदूरा निवासी आरिफ हजाम , उदसु तेलवानी अचबल निवासी बासित राशिद गनी और पुलवामा के करीमाबाद निवासी सोहेल मुस्ताक भट्ट के रूप में हुई है। जम्मू कश्मीर पुलिस के अनुसार मारे गए आतंकवादियों में आरिफ हजाम अनंतनाग जिला का लश्कर कमांडर था और वह साल 2018 से आतंकी गतिविधियों में लिप्त था। उसके खिलाफ कई आपराधिक मामले दर्ज थे ।

Comments

Translate »