यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की ने NATO को सुनाई दो टूक, कहा- खुल कर कहो- हमें रूस से डर लगता है

यूक्रेन और रूस के बीच युद्ध को शुरू हुए 27 दिन हो चुके हैं। इस दौरान दोनों देशों के प्रतिनिधियों के बीच कई चरणों की बातचीत हो चुकी है। लेकिन अभी तक यह वार्ता बेनतीजा रही।

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोडीमीर जेलेंस्की ( Volodymir Zelensky ) ने कहा कि जंग को समाप्त करने के लिए किसी भी शर्त पर और किसी भी हाल में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ बातचीत जरूरी है। यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की ने कहा,” मुझे लगता है कि बिना बातचीत के पूरी तरह से यह युद्ध समाप्त कर पाना नामुमकिन है। वे युद्ध रोकने के लिए क्या चाहते हैं ? बिना बातचीत के यह युद्ध खत्म नहीं हो सकता है।”

बेनतीजा रही बातचीत

दोनों देशों के बीच प्रतिनिधियों के बीच कई चरणों की वार्ता के बाद भी अभी तक जंग का कोई हल नहीं निकल पाया है। रूस और यूक्रेन के बीच शुरू हुए युद्ध को आज 27 दिन हो गए है। वोलोडीमीर जेलेंस्की ने नोटों से भी सवाल किया है। उन्होंने कहा,”  नाटो को कहना चाहिए कि वह यूक्रेन को अपने गठबंधन में जगह दे पाएंगे या नहीं ? नाटो को खुलकर बता देना चाहिए कि वे हमें स्वीकार नहीं कर रहे हैं। उसे रूस से डर लगता है । यही सच है। ”

रासायनिक संयंत्र पर बम गिराए

यूक्रेन मीडिया कीव इंडिपेंडेंट की रिपोर्ट के अनुसार रूस ने सुमी शहर के बाहरी इलाकों में रासायनिक संयंत्र पर बम गिराए हैं। दावा किया गया है कि सोमवार रात को रूस की सेना की बमबारी की वजह से संयंत्र में अमोनिया गैस का रिसाव होने लगा है। जिस पर काबू पाने के लिए कई घंटे लग गए।

रूस ने कहा झूठे हैं आरोप

वहीं दूसरी तरफ रूस का कहना है कि यूक्रेन झूठे आरोप लगा रहा है। रूस ने कहा कि यूक्रेन के रिवने में एक सैन्य प्रशिक्षण केंद्र पर हमला किया गया था। इसमें 80 से ज्यादा फौजी मारे गए।

Comments Cancel reply

Translate »
Exit mobile version