अरविंद केजरीवाल की प्रधानमंत्री मोदी से मांग, इस बार डॉक्टर्स को दिया जाए भारत रत्न  

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी से माँग की है कि इस बार भारत रत्न का सम्मान डॉक्टर्स को दिया जाना चाहिए। यह उन डॉक्टर्स को सच्ची श्र्द्धांजलि होगी जिन्होंने कोरोना से लड़ते हुए जान गंवा दी।

देश की राजधानी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी को चिठ्ठी लिखकर इस बार डॉक्टर्स को भारत रत्न दिए जाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के चलते बहुत से डॉक्टर्स ने लोगो की सेवा करते हुए अपने जान गंवा दी है। यह उन डॉक्टर्स के प्रति सच्ची श्र्द्धांजलि होगी, जिन्होंने कोरोना मरीजों का इलाज करते हुए अपने जान गंवा दी है।

सीएम केजरीवाल का तो यहां तक कहना है कि अगर नियम इसकी मंजूरी नहीं देते तो नियमो में बदलाव किया जाए और सभी डॉक्टर्स को भारत रत्न से नवाज़ा जाए।

अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर भी इस बात की जानकारी दी है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, ” इस वर्ष “भारतीय डॉक्टर” को भारत रत्न मिलना चाहिए। “भारतीय डॉक्टर” मतलब सभी डॉक्टर, नर्स और पैरामेडिक। ‘शहीद हुए डाक्टर्ज़ को ये सच्ची श्रद्धांजली होगी। अपनी जान और परिवार की चिंता किए बिना सेवा करने वालों का ये सम्मान होगा। पूरा देश इससे खुश होगा।”

आईएमए के आंकड़ों के मुताबिक दूसरी लहर के दौरान 730 डॉक्टर्स की गयी जान

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) की द्वारा जून में उपलब्ध करवाए गए आंकड़ों के अनुसार कोरोना वायरस की दूसरी लहर के दौरान 730 डॉक्टर्स ने अपनी जान गंवाई है। बिहार में सबसे  ज्यादा 115 डॉक्टर्स ने अपनी जान गंवाई है।

वहीं दिल्ली में 109 डॉक्टर्स, उत्तर प्रदेश में 79, पश्चिम बंगाल में 62, राजस्थान में 43, झारखंड में 39 और आंध्र प्रदेश में 38 डॉक्टर्स ने कोरोना वायरस महामारी से अपनी जान गंवई है। वहीं कोरोना वायरस की पहली लहर दौरान 748 डॉक्टर्स की मौत हुई थी।

Comments

Translate »