राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने CRPF जवानों को गुरुग्राम में किया संबोधित

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने गुरुग्राम, हरियाणा में 80 वीं सीआरपीएफ वर्षगांठ परेड में
जवानों को किया सम्मानित।डोभाल 51 साल से कर रहे हैं देश सेवा।

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने गुरुग्राम में सीआरपीएफ (केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल )
80 वीं वर्षगांठ पर कहा,”मैं देश के लिए पुलवामा में बलिदान देने वाले बहादुर 40 सीआरपीएफ
जवानों को श्रद्धांजलि देना चाहता हूं। देश इसे नहीं भूला है और न इसे कभी भूलेगा।”

अजीत डोभाल ने CRPF के नेतृत्व , वर्दी और देश के हर हिस्से में किए गए काम की तारीफ
करते हुए कहा ,”1949 में सीआरपीएफ दो बटालियन से शुरू हुई थी। आज देश के हर हिस्से में
200 बटालियंस हैं। जोकि भारत की आंतरिक सुरक्षा और विभिन्न चुनौतियों का सामना कर रही है।
यही एक फाॅर्स है भारत के 32 लाख वर्ग किलोमीटर में जरूरत पड़ने पर कभी भी पहुंच जाती है।
चुनाव और देश में कानून व्यवस्था को फ़ोर्स बाखूबी संभालती है।”

“आज से 79 साल पहले सरदार वलभ भाई पटेल ने सीआरपीएफ को ध्वज प्रदान किया था। बल ने
उस ध्वज का मान रखते हुए ऊंचाइयों तक पहुंचाया,इसके लिए आप सभी पर पुरे देश को गर्व है।,”
डोभाल ने कहा।
जब भी हमारी बैठकें होती हैं और चर्चा होती है कि किस बल को भेजना है? कितनी बटालियनों को
भेजा जाना चाहिए? हम कहते हैं, CRPF भेजें,यह एक विश्वसनीय बल है, हम पूरी तरह से उन पर
भरोसा कर सकते हैं।एनएसए ने कहा।

Comments

Translate »