देश को बचाने के लिए किसान हर कुर्बानी देने के लिए तैयार हैं: राकेश टिकैत

0
देश को बचाने के लिए किसान हर कुर्बानी देने के लिए तैयार हैं: राकेश टिकैत
फोटोः राकेश टिकैत

हरियाणा के करनाल में किसानों पर हुए लाठीचार्ज को लेकर किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि देश को बचाने के लिए किसान हर कुर्बानी देने के लिए तैयार है।

हरियाणा के करनाल जिला के घरौंदा टोल प्लाजा पर प्रदर्शन कर रहे किसानों पर हरियाणा पुलिस द्वारा किए गए लाठीचार्ज के 1 दिन बाद नूहू में किसानों ने महापंचायत का आयोजन किया है। इस महापंचायत में संयुक्त किसान मोर्चा के वरिष्ठ नेता सहित कई किसान समूह कृषि कानूनों का विरोध करने के लिए एकत्रित हुए हैं। महापंचायत में भारतीय किसान संघ, जिसमें डॉ दर्शन,किसान नेता राकेश टिकैत और बलबीर सिंह राजेवाल, स्वराज इंडिया के मुखिया योगेंद्र यादव भी शामिल हैं। कल किसानों पर हुए लाठीचार्ज से पहले ही आज के कार्यक्रम को निर्धारित किया गया था।

किसान नेता राकेश टिकैत ने नूंह महापंचायत में हिस्सा ले लिया। उन्होंने एक ट्वीट कर लिखा,” देश को बचाने के लिए किसान हर कुर्बानी देने को तैयार हैं। इससे पहले उन्होंने उन्होंने करनाल में हुए किसानों पर लाठीचार्ज के बाद एक ट्वीट किया था। जिसमें उन्होंने लिखा था ‘किसान का जितना खून बहेगा, उतना किसान मजबूत होगा।’

किसान नेता राकेश टिकैत ने हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर को जनरल डायर बताते हुए एक ट्वीट किया। टिकैत ने पुलिस लाठीचार्ज में हुए घायल एक किसान की फोटो को साझा करते हुए लिखा हरियाणा के मुख्यमंत्री खट्टर का व्यवहार जनरल डायर जैसा है। जो अत्याचार हरियाणा पुलिस ने किसानों पर किया है, वह बर्दाश्त नहीं हो सकता  किसान सब का हिसाब करेगा।

दूसरी तक हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने राज्य स्तरीय बैठकों का विरोध कर रहे किसानों के खिलाफ पुलिस की कार्रवाई के बाद न्यूज़ एजेंसी एएनआई से कहा कि किसी भी संगठन के कार्य को बाधा डालना अलोकतांत्रिक है। इससे पहले उन्होंने किसानों को चेतावनी दी थी कि किसी के लिए भी अपनी सीमा पार करना अच्छा नहीं होगा।

हरियाणा के करनाल में पुलिस ने किसानों पर उस समय लाठीचार्ज किया जब भारतीय जनता पार्टी के हरियाणा प्रमुख ओपी धनखड़ को बैठक में पहुंचने से रोकने के लिए एक काफिले को रोकने का प्रयास किया गया।

वही किसानों पर हुए लाठीचार्ज के बाद करनाल पुलिस की इंस्पेक्टर जनरल ममता सिंह ने समाचार एजेंसी पीटीआई से कहा कि हम ने हल्का बल प्रयोग किया। क्योंकि वह राजमार्ग को अवरुद्ध कर रहे थे।

दूसरी तरफ सोशल मीडिया पर किसानों पर हुए लाठीचार्ज के वीडियो और फोटोज देखने के बाद काफी गुस्सा देखने को मिला है। कांग्रेस पार्टी के नेता राहुल गांधी, आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह सहित कई विपक्षी दलों ने किसानों पर हुए लाठीचार्ज का जमकर विरोध किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here