कोरोना वायरस संकट की वजह से CBSE बोर्ड दसवीं की बची हुई परीक्षाएं नहीं होंगी

स्थिति सामान्य होने के बाद उत्तर पुस्तिकाओं की जांच होगी। 12वीं की बची हुई महत्वपूर्ण परीक्षाएं ली जाएंगी। दसवीं बोर्ड की बची हुई परीक्षाएं अब नहीं होगी। केंद्रीय मंत्री ने राज्य सरकारों को दिए निर्देश।

COVID-19 महामारी के संकट के मद्देनजर लॉकडाउन के बीच सीबीएसई बोर्ड ने ने दसवीं कक्षा की बची हुई परीक्षाओं को नहीं करवाने का फैसला लिया है। दिल्ली में हुई हिंसा के दौरान रद्द की गई परीक्षाओं को लिया जाएगा। दसवीं के छात्रों को बची हुई परीक्षाओं में औसत अंकों के आधार पर ग्रेड दिया जाएगा।

दूसरी तरफ ,12वीं कक्षा की बची हुई सिर्फ महत्वपूर्ण परीक्षाएं ली जाएँगी। स्थिति सामान्य होने के बाद ही उत्तर पुस्तिकाओं की जांच शुरू की जाएगी। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अनुसार ,कापियां जांचने और परिणाम आने में अभी कम से कम दो से ढाई महीने तक का समय लग सकता है। ये भी पढ़ें : पीएम नरेंद्र मोदी और आडवाणी के साथ वायरल हो रही है रामायण की सीता दीपिका की फोटो

कल ही, केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने छात्रों की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए जरूरी निर्देश दिए हैं। उन्होंने राज्यों के शिक्षा मंत्रियों से कहा कि कापियों का मूल्यांकन करने के लिए प्रबंध करें ताकि परीक्षा परिणाम जल्दी घोषित किए जा सकें। ये भी पढ़ें : अमेज़न प्राइम की सुपरहिट वेब सीरीज फोर मोर शॉट्स का दूसरा सीजन हुआ रिलीज

Comments

Translate »