प्रेस कांफ्रेंस के दौरान फूट-फूटकर पड़ीं AAP प्रत्याशी आतिशी

लोक सभा चुनाव 2019 के 5 चरण खत्म होने के बाद भी राजनीतिक दलों द्वारा एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप जारी है। इसी बीच आम आदमी पार्टी की पूर्वी दिल्ली से प्रत्याशी आतिशी प्रेस कांफ्रेंस के दौरान फूट-फूटकर रो पड़ीं।

सत्ताधारी दल अपने पिछले पांच साल कामों पर चर्चा न करते हुए भूतकाल में क्या हुआ था ,पंडित जवाहर लाल नेहरू,इंदिरा गांधी ,राजीव गांधी ने क्या किया था या नही किया था पर चर्चा कर रहा है। वहीँ दूसरी तरफ विपक्ष सरकार की नाकामियों को गिनाकर मतदाताओं को रिझाने की कोशिश कर रहा है। झूठ,फरेब आरोप-प्रत्यारोप जैसे मुद्दों से कहीं आगे बढ़ते हुए बात महिला नेताओं के चरित्र हनन तक आ पहुंची है। इसी सिलसिले में दिल्ली में एक पंफलेट को लेकर हंगामा खड़ा हो गया है। इस पंफलेट में दिल्ली के मुख्य मंत्री अरविंद केजरीवाल ,उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और पूर्वी दिल्ली से आम आदमी पार्टी की प्रत्याशी आतिशी के खिलाफ अपशब्दों की भरमार है। इसको लेकर आम आदमी पार्टी ने आज गुरूवार के दिन एक प्रेस कांफ्रेंस की। प्रेस कांफ्रेंस के दौरान पूर्वी दिल्ली प्रत्याशी आतिशी फूट-फूटकर रोने लगी। पंफलेट में आतिशी के खिलाफ आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया गया था। शब्द इतने अश्लील हैं की हम उनको यहां नहीं छाप सकते। प्रेस कांफ्रेंस के दौरान आम आदमी पार्टी ने आपत्तिजनक पंफलेट बांटने का आरोप पूर्व क्रिकेटर और बीजेपी प्रत्याशी गौतम गंभीर पर लगाया है।

आप प्रत्याशी आतिशी ने कहा,मेरा गंभीर जी से बस एक यही सवाल है कि अगर वो मेरे जैसी सशक्त महिला को हराने के लिए इतना गिर सकते हैं तो सांसद बनने के बाद वो अपने क्षेत्र की महिलाओं को कैसे सुरक्षित करेंगे।’

दूसरी तरफ आतिशी के पक्ष में पूर्व आप नेता योगेंद्र यादव ने ट्वीटर पर लिखा ,’अब बहुत हो गया। आतिशी के खिलाफ इस बदनामी अभियान के खिलाफ एकजुट हों। राजनीतिक अंतर अलग है। मैं आतिशी को ईमानदारी का एक मॉडल मानता हूं। हम सौभाग्यशाली हैं कि सार्वजनिक जीवन में उनके जैसे लोग हैं। दोषी को चुनाव आयोग और दिल्ली के मतदाताओं द्वारा दंडित किया जाना चाहिए।’

Comments

Translate »