सीडीएस बिपिन रावत के साथ हेलीकॉप्टर क्रैश में एकमात्र जिंदा बचे ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का बेंगलुरु में चल रहा है इलाज,पूरा देश मांग रहा सलामती की दुआ

तमिलनाडु के कुन्नूर में हुए हेलीकॉप्टर क्रैश में जान गवाने वाले सीडीएस जनरल बिपिन रावत उनकी पत्नी सहित 13 लोगों के पार्थिव शरीर को दिल्ली लाया गया है। इस दुर्घटना में एकमात्र जीवित बचे ग्रुप कैप्टन बुरी तरह से झुलस गए हैं। उनका इलाज वेलिंगटन अस्पताल में चल रहा था। अब उनको बेंगलुरू स्थित कमांड हॉस्पिटल में शिफ्ट किया गया है।

बुधवार दोपहर को तमिलनाडु के कन्नूर हेलीकॉप्टर क्रैश में CDS जनरल बिपिन रावत उनकी पत्नी मधुलिका रावत सहित 13 लोगों की जान चली गई थी। इस हादसे में एकमात्र जिंदा बचे ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का इलाज वेलिंगटन के अस्पताल में चल रहा था। उनका इलाज सैन्य अस्पताल में जीवन रक्षक प्रणाली पर चल रहा था। अब वरुण सिंह को वेलिंगटन अस्पताल से बेंगलुरू स्थित कमांड हॉस्पिटल में रेफर किया गया है। उनकी जान बचाने के लिए डॉक्टर सभी जरूरी कोशिशें कर रहे हैं।

पूरा देश मांग रहा है दुआ

ग्रुप कैप्टन की सलामती के लिए उनका पूरा परिवार और देश पूजा अर्चना करके दुआ कर रहा है। बता दें ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह ने इससे पहले पिछले साल तेजस विमान का परीक्षण उड़ान के दौरान आई बड़ी तकनीकी खामी के बाद विमान को आपात कालीन स्थिति में सुरक्षित लैंड कर लिया था। वह उस समय भी बाल-बाल बचे थे। उनकी बहादुरी के लिए उन्हें साल 2021 में शौर्य चक्र पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

अगले 2 दिन है बहुत अहम

आईएएस अधिकारी ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह के इलाज के लिए पुणे और बेंगलुरु से डॉक्टरों की एक्सपर्ट टीम को बुलाया गया है। जो उनका इलाज कर रहे हैं। ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह के लिए अगले 48 घंटे बहुत अहम है। कैप्टन सिंह प्रतिष्ठित डी एस एस सी में निदेशक हैं और उन्होंने सुलुर हवाई अड्डे पर जनरल रावत की अगवानी की थी। जहां से वह हेलीकॉप्टर से वेलिंगटन रवाना हुए थे।

डिफेंस मिनिस्टर राजनाथ सिंह ने संसद में बताया,” जनरल रावत ने अपनी पत्नी और 12 अन्य लोगों के साथ सुल्लूर से एम आई 17वी5 हेलीकॉप्टर से दोपहर 11:48 पर वेलिंगटन के लिए उड़ान भरी थी। हेलीकॉप्टर को दोपहर 12:15 पर वेलिंगटन में उतरना था। सुलुर स्थित एयर बेस का एटीसी का 12:08 पर हेलीकॉप्टर से संपर्क टूट गया था बाद में कुन्नूर के पास जंगल में लोकल स्थानीय लोगों ने आग देखी। मौके पर जाकर उन्होंने हेलीकॉप्टर को आग की लपटों में घिरा हुआ देखा। जिसके बाद स्थानीय प्रशासन एवं बचाव दल वहां पहुंचा। बता दें कि जनरल बिपिन रावत बुधवार को वेलिंगटन स्थित डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज के छात्रों से संवाद करने के लिए पूर्व निर्धारित कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पहुंचे थे।

ये भी पढ़ें,पाकिस्तान के बालाकोट आतंकी शिविरों को लेकर सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने किया बड़ा खुलासा

उत्तर प्रदेश के देवरिया के रहने वाले हैं वरुण सिंह

आपको बता दें ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह उत्तर प्रदेश के देवरिया जिला के रुद्रपुर तहसील के कन्हौली गांव के रहने वाले हैं। इस समय कैप्टन वरुण सिंह इंडियन एयरफोर्स में ग्रुप कैप्टन के पद पर तैनात है और तमिलनाडु के वेलिंगटन में डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज डीएसएससी के डायरेक्टरी स्टाफ है। उनके पिता भारतीय सेना से रिटायर्ड कर्नल हैं। फ़िलहाल कैप्टन सिंह का पूरा परिवार मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में रह रहा है।

Comments

Translate »