सोफिया हयात ने बोल्ड फोटो शेयर कर महिलाओं की ताकत के बारे में समझाया

0
सोफिया हयात ने बोल्ड फोटो शेयर कर महिलाओं की ताकत के बारे में समझाया

बिग बॉस 7 की पूर्व कंटेस्टेंट ब्रिटिश मूल की अभिनेत्री सोफिया हयात ने अपनी एक बोल्ड फोटो इंस्टाग्राम पर साझा करते हुए महिलाओं की ताकत के बारे में समझाया है।

सोफिया हयात ने बोल्ड फोटो शेयर कर महिलाओं की ताकत के बारे में समझाया

बिग बॉस 7 की कंटेस्टेंट

आध्यात्मिक गुरु और साल 2013 में बिग बॉस 7 की कंटेस्टेंट रह चुकी ब्रिटिश मूल की पूर्व अभिनेत्री सोफिया हयात ने अपने इंस्टाग्राम पर अपनी एक बोल्ड फोटो साझा कर महिलाओं की पॉवर के बारे में समझाया है। सोफिया हयात की इस पोस्ट को लोग बहुत पसंद कर रहे हैं।

सोफिया हयात ने अपनी इंस्टाग्राम पोस्ट में लिखा ,” लंबे समय से महिलाओं को सुंदर ,सेक्सी ,बुद्धिमान और बोल्ड होने के लिए ‘डेमोनाइज्ड ‘ किया गया है। क्या आप जानते हैं कि एक महिला की शक्ति इन चीजों में है ? ”

‘जब एक महिला खुद को स्वतंत्र महसूस करती है, तो वह एक अविश्वसनीय शक्ति प्राप्त करती है जो उसके चारों ओर लाभ पहुंचाती है। ईडन के बगीचे में कहानी शुरू हुई, जब ‘ईव’ को शर्म और अपराध में धोखा दिया गया था। उसे विश्वास है कि वह एक पापी थी। आज कुछ चर्चों में..इस मंत्र को बार-बार दोहराया।’ सोफिया हयात ने लिखा।

सोफिया हयात की बोल्ड फोटो

View this post on Instagram

For a long time women have been demonised for being beautiful, sexy, intelligent and bold! Do you realise, that the power of a woman is in these things? When a woman feels free enough to be herself, then she unleashes an incredible power that benefits all around her. The story began in the Garden Of Eden, when Eve was tricked into shame and guilt. She was made to believe she was a sinner. Today in some churches..this mantra us repeated again and again. It is a satanic doctrine. Mantras create..and repeating the same mantra, becomes a belief. Why then is the church making you say you are sinners? Eve committed no sin. She was innocent. Her self belief, beauty and wisdom, were coveted by a dark energy, who tricked her into believing that she did something wrong.. when all she did was eat…from THE TREE OF KNOWLEDGE… so that she may know good from bad… We teach our children good from bad..so that they may know… It took me long time to shed the clothes of shame and guilt. Now I know myself..I know what I am..I am a divine being in all I am. The ancients knew the power of WOMAN…she was reverred. Every man worshipped every woman, for he knew, she was the keeper of the wisdom..she was his success. When she was happy and glowing…her energetic field, immersed everything in love and abundance and health and joy! It was always the Queen who chose the king..because in the same way we know trees give us oxygen, they knew, the power of WOMAN. @calvinklein #GODDESS #goldenage #sofiahayat #mantra #ayahuasca #guru #peace #egypt #mexico #metatron #metatronscube #london #arcturian #spirituality #spiritual #yoga #love #unity #peace #egypt #woman #gardenofeden #spiritualissexy

A post shared by Sofia Hayat (@sofiahayat) on

‘यह एक शैतानी सिद्धांत है। मंत्र बनाते हैं..और उसी मंत्र को दोहराते हुए, एक विश्वास बन जाता है। फिर चर्च आपको पापी क्यों कह रहा है?  हव्वा ने कोई पाप नहीं किया। वह निर्दोष थी। उसका आत्म-विश्वास, सुंदरता और ज्ञान, एक गहरी ऊर्जा से प्रतिष्ठित थे। उन्होंने लिखा। ”

अभिनेत्री ने इंस्टाग्राम पर आगे लिखा ,” मुझे शर्म और अपराधबोध के कपड़े उतारने में बहुत समय लगा। अब मैं खुद को जानती हूं ,मैं जानती हूं कि मैं क्या हूं..मैं एक ‘परमात्मा’ हूं जो मैं हूं। पूर्वजों को औरत की शक्ति का पता था। वह उनके लिए श्रद्धेय थी। हर पुरुष हर महिला की पूजा करता है, क्योंकि वह जानता था, वह ज्ञान की रक्षक थी। ”

‘यह हमेशा रानी थी जिसने हमेशा राजा को चुना। क्योंकि हम जानते हैं कि पेड़ हमें ऑक्सीजन देते हैं।क्योंकि उन्हें औरत की ताकत का अंदाजा था।’ सोफिया हयात ने महिला शक्ति के बारे में बताते हुए लिखा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here