सीआरपीएफ जवान ने एक ही मंडप में लिए दो दुल्हनों के साथ फेरे

छत्तीसगढ़ के जशपुर के बघड़ोल गांव में एक अजीबोगरीब शादी हुई है। सीआरपीएफ के एक जवान ने एक ही मंडप में दो दुल्हनों के साथ सात फेरे लिए हैं।

एक मंडप में दो दुल्हनों के साथ फेरे लेने में एक सीआरपीएफ (CRPF)के एक जवान की बीवी थी और दूसरी उसकी गर्लफ्रेंड थी। मतलब कहने का सीआरपीएफ जवान एक ही मंडप में दो दुल्हनों के साथ सात फेरे लिए हैं। सीआरपीएफ का जवान अनिल पखरा (Anil Pakhra)जशपुर का रहने वाला है। जवान वाराणसी में ड्यूटी करता है। चार साल पहले उनकी शादी पड़ौस के गांव में हुई थी। शादी के बाद उनको आंगनवाड़ी वर्कर से प्यार हो गया।

कानून के हिसाब से सरकारी कर्मचारी का दो-दो शादियां करना अपराध माना जाता है। एक समाचारपत्र के पत्रकार से बात करते हुए सीआरपीएफ के प्रवक्ता ने कहा ये नियम के खिलाफ है। कोई भी सरकारी कर्मचारी 2 शादियां नही कर सकता। अनिल पखरा को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

बघड़ोलगांव के सरपंच ने एक पत्रकार से बात करते हुए कहा कि मैंने अपनी जिंदगी में ऐसा पहली बार देखा है, जहां एक ही मंडप में एक ही आदमी ने दो दुल्हनों के साथ फेरे लिए हों। गौरतलब है कि सीआरपीएफ जवान की पहली पत्नी को शादी के चार साल बीत जाने के बाद बच्चा नही हो रहा था। दूसरी शादी करने की ये भी वजह हो सकती है।

गांव वालों के अनुसार सीआरपीएफ जवान के आंगनवाड़ी वर्कर के साथ पहले से रिश्ता था। इसलिए उंसने दूसरी शादी की है। जवान जब भी छुट्टी पर आता था तो अपनी पत्नी से ज्यादा आंगनवाड़ी वर्कर के साथ ज्यादा समय बिताता था। जवान की पत्नी को इस बारे में पहले से पता था।

Comments

Translate »